breaking news New

कोरोना जांच रिपोर्ट देने में टालमटोल, ज्ञापन के माध्यम से हिन्दू युवा मंच ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से की शिकायत

कोरोना जांच रिपोर्ट देने में टालमटोल, ज्ञापन के माध्यम से हिन्दू युवा मंच ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से की शिकायत

राजनांदगांव। हिन्दू युवा मंच जिला इकाई ने जिम्मेदार विभाग द्वारा कोरोना की जाँच रिपोर्ट देने में टालमटोल करने की शिकायत ज्ञापन के माध्यम से स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से की है। अपनी शिकायत में कहा कि, संबंधित विभाग द्वारा जाँच रिपोर्ट के लिए गुमराह कर भटकाया जा रहा है। ऐसे नाज़ुक समय में मरीज और उनके परिजनों की कीमती समय की नाहक बर्बादी हो रही है। इनके इस गैर-जिम्मेदाराना रवैय्ये से रोज जाने जा रही है।
उक्ताशय की जानकारी देते हुए हिन्दू युवा मँच के जिलाध्यक्ष किशोर माहेश्वरी ने बताया कि जिला प्रशासन राजनांदगांव द्वारा एक ओर कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण पाने जनसमान्य से अधिक से अधिक जांच कराने की अपील की जा रही है। कोविड जांच तो तुरंत किया जा रहा है, लेकिन उसकी रिपोर्ट तत्काल उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। जांच करा लेने के बाद रिपोर्ट लेने के लिए पुराना जिला अस्पताल के रेडक्रॉस भवन में भेजा जा रहा है। वहां पर भी रिपोर्ट देने में आना-कानी की जा रही है। रिपोर्ट लेने आम आदमी के पसीने छूट रहे हैं। वहीं जिम्मेदार विभाग द्वारा रिपोर्ट देने में टालमटोल कर गुमराह किया जा रहा है, जिसके कारण मरीज और उनके परिजन दफ्तर के चक्कर लगाने के लिए मजबूर हैं। कोरोना जाँच करने जिला मुख्यालय में लगभग आधा दर्जन कोविड जांच केन्द्र बनाये गए हैं। जिस कोविड जांच केन्द्र में जांच कराओ वहां पर रिपोर्ट तत्काल नहीं दी जाती। जांच दल और अधिकारियों द्वारा मोबाईल पर मैसेज के माध्यम से रिपोर्ट भेज देने की बात कही जाती है, रिपोर्ट न आने की स्थिति में पुराना जिला अस्पताल स्थित रेडक्रॉस भवन भेजा जाता है। रेडक्रॉस भवन जाने पर एक आवेदन भराया जाता है, आवेदन भराने के बाद भी घंटो इंतजार कराया जाता है। घंटों इंतजार कराने के बाद आखरी में कह दिया जाता है कि, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कार्यालय में जाकर पता पता कर लीजिए अथवा आपने जहां पर जांच कराई है, वहीं पर एक बार जाकर पता करने की बात कही जाती है, तो इस प्रकार जनसमान्य को दर-दर भटकने के लिए विवश किया जा रहा है, और ऐसे नाज़ुक समय मे उनके कीमती समय की नाहक बर्बादी की जा रही है। पॉजिटिव रिपोर्ट के बिना सिटी स्कैन में रियायत भी नहीं मिल पा रही है। सिटी स्कैन कराने में दिक्कतें आ रही है, और बिना सिटी स्कैन के ईलाज आगे नहीं बढ़ पा रहा है। बिना पॉजिटिव रिपोर्ट के शासकीय अथवा निजी अस्पतालों में मरीज को भर्ती भी नहीं किया जा रहा है। निगेटिव और पॉजिटिव मरीजों दोनों के लिए ही रिपोर्ट जरूरी है। शासकीय सेवकों को अपनी निगेटिव रिपोर्ट विभाग में दिखानी है, तो वहीं बिना निगेटिव रिपोर्ट के जरूरी कार्य के लिए बाहर भी नहीं जा सकते। संबंधित विभाग के इसी गैरजिम्मेदाराना और लापरवाहीपूर्ण रवैय्ये से रोज सैकड़ों मरीजों की जान जा रही है।
हिन्दू युवा मंच ने कोविड जाँच की रिपोर्ट तत्काल प्रदान करने और इसे सरलता से सुलभ कराने की मांग की है, ताकि हम विलंब के कारण बेवजह हो रही मौतों पर अंकुश लगाया जा सके।