breaking news New

नीतीश फिर चुने गए एनडीए विधायक दल के नेता , राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश

नीतीश फिर चुने गए एनडीए विधायक दल के नेता , राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश

पटना।  जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को एक बार फिर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) विधायक दल का नेता चुन लिया गया ।

मुख्यमंत्री के सरकारी आवास एक अणे मार्ग में राजग के चारों घटक दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), जनता दल यूनाइटेड (जदयू), हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के नव निर्वाचित विधायकों और विधान पार्षदों की आज हुई संयुक्त बैठक में राजग विधायक दल के नेता के तौर पर श्री नीतीश कुमार के नाम पर मुहर लगी। श्री कुमार बिहार में राजग की एक बार फिर बनने वाली नई सरकार में मुख्यमंत्री होंगे ।

केंद्रीय पर्यवेक्षक राजनाथ सिंह ने एनडीए विधायक दल की बैठक में नीतीश कुमार के नाम की घोषणा की. एनडीए की इस बैठक में सभी चार घटक दल मौजूद रहे. इस बार चुनाव में एनडीए में शामिल बीजेपी, जेडीयू, हम और वीआईपी के 125 विधायक चुने गए हैं.

एनडीए विधायक दल की बैठक में अपने नाम पर मुहर लगने के बाद नीतीश कुमार राजभवन पहुंचे. वहां नीतीश कुमार ने सरकार बनाने का दावा पेश किया. बताया जा रहा है कि कल ही नीतीश कुमार का शपथ ग्रहण हो जाएगा.

कटिहार से बीजेपी विधायक तारकिशोर प्रसाद को बीजेपी विधायक दल का नेता चुनाव गया है. जबकि रेणु देवी को बीजेपी विधायक दल का उपनेता चुना गया है.

इधर सुशील मोदी मोदी एक बार फिर से बिहार के डिप्टी सीएम बनेंगे. बीजेपी विधायक दल की बैठक में डिप्टी सीएम के पद के लिए सुशील मोदी का नाम फाइनल किया गया है. सुशील मोदी को बीजेपी विधानमंडल का नेता चुना गया है.

नीतीश कुमार थोड़ी देर में राज्यपाल फागू चौहान से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे. माना जा रहा है कि नीतीश कुमार कल सातवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं.

इससे थोड़ी देर पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, बीजेपी नेता सुशील मोदी और केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय एक कार में सवार होकर सीएम आवास पहुंचे. यहीं पर एनडीए की मीटिंग हो रही है.

एनडीए की मीटिंग से पहले पटना में जेडीयू के नवनिर्वाचित विधायकों की मीटिंग हुई. इस मीटिंग में नीतीश कुमार को जेडीयू के विधायक दल का नेता चुना गया. इसके साथ ही नीतीश कुमार का फिर से बिहार का सीएम बनना पक्का हो गया है.

इस बीच एनडीए की मीटिंग से पहले बीजेपी के विधायकों की मीटिंग हुई. इस बैठक में बीजेपी के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह को भी पहुंचना था, लेकिन वे इसमें नहीं पहुंच पाए. राजनाथ सिंह बाद में पटना पहुंचे हैं. पटना में राजनाथ सिंह एनडीए की विधायक दल की बैठक में बतौर पर्यवेक्षक मौजूद रहेंगे. सुशील मोदी भी इस बैठक में शामिल नहीं हो पाए हैं. विधायक दल की बैठक के बाद सभी नेता स्टेट गेस्ट हाउस चले गए हैं. इस बार बीजेपी के 74 विधायक जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं.

बीजेपी की इस बैठक में कुछ कारणवश पार्टी के नेता के नाम पर चर्चा नहीं हो पाई. इस बीच सरकार गठन पर चर्चा करने के लिए बीजेपी केंद्रीय नेतृत्व ने पार्टी के वरिष्ठ नेता और डिप्टी सीएम रहे सुशील मोदी को दिल्ली बुलाया है.

इस वक्त बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस और भूपेंद्र यादव भी पटना में मौजूद हैं. 

बीजेपी के नेता सुभाष सिंह ने कहा कि विधायक दल की बैठक में बीजेपी के नेता के नाम पर चर्चा नहीं हो सकती है, लेकिन बीजेपी के नेता चाहते हैं कि बेदाग छवि के नीतीश और सुशील मोदी एक बार फिर से राज्य के सीएम और डिप्टी सीएम बनें.