breaking news New

केशकाल गैंगरेप सुसाइड केस : केदार कश्यप के नेतृत्व में भाजपा दल पीड़ित परिजनों से मिला

केशकाल गैंगरेप सुसाइड केस : केदार कश्यप के नेतृत्व में भाजपा दल पीड़ित परिजनों से मिला

केशकाल. केशकाल गैंगरेप और सुसाइड केस के पीड़ित परिवार से आज भाजपा के एक दल ने मुलाकात की तथा सरकार से मुआवजा सहित न्यायिक जांच कराने की मांग की. इस दल में पूर्व मंत्री केदार कश्यप, कमलचंद भंजदेव और पूर्व मंत्री लता उसेंडी शामिल थीं.

जानते चलें कि चंद दिनों पहले ही लिफट देने के बहाने एक आदिवासी युवती से गैंगरेप हुआ था. इसके बाद सरकार और प्रशासन हरकत में आया था. प्रशासन ने अलर्ट होकर इसमें कार्रवाई की थी. इस केस में सभी सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पांच आरोपी पहले ही पकड़े जा चुके थे, जिन्हें कोर्ट में पेश किया गया, वहीं फरार दो और आरोपियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

गौरतलब है कि कोंडागांव जिले के केेशकाल में दो महीने पूर्व शादी समारोह में गई नाबालिग को 7 युवक उठा ले गए थे, जंगल में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया, उसके बाद नाबालिग ने आत्महत्या कर ली थी. इसके बाद भी शिकायत दर्ज नहीं होने पर पीड़ित के पिता ने भी खुदकुशी की कोशिश की थी, तब जाकर मामले का खुलासा हो पाया. इसके बाद हरकत में आए प्रशासन ने मामले में आगे की कार्रवाई की. कोंडागांव जिले के केशकाल में सामूहिक दुष्कर्म के बाद पीड़िता के सुसाइड मामले को राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने भी संज्ञान में लिया है. आयोग के सदस्य यशवंत जैन ने एसपी को पत्र लिखकर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर जानकारी देने को कहा. इधर आज भाजपा दल पूर्व मंत्री केदार कश्यप के नेतृत्व में पीड़ित परिजनों से मिला.

भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने बताया कि जांच दल ने शाम को चार बजे पीड़ित परिवार से मुलाकात की. घटना की न्यायिक जांच की जा रही है लेकिन एसआईटी फर्जी है. ऐसा लगता है कि छत्तीसगढ़ बलात्कार का गढ़ हो गया है.