breaking news New

big news : मशरुम तोडऩे गए युवक की मिली जंगल में लाश

big news :  मशरुम तोडऩे गए युवक की मिली जंगल में लाश

महासमुंद। मशरूम तोडऩे गए एक युवक की लाश जंगल में मिली। जंगली जानवरों ने मृतक के सिर को नोंचकर क्षत विक्षत कर दिया है। हालांकि मृतक की शिनाख्त हो गई है, लेकिन दो दिन पुराना होने के कारण शव में कीड़े लग गए थे। घटना पिथौरा क्षेत्र के ग्राम जम्हर जंगल के अंदर की है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। मृतक के चेहरे को देखकर कयास लगाया जा रहा है कि भालू ने युवक को मौत के घाट उतारा है, क्योंकि इस क्षेत्र में पिछले तीन दिन से भालू घूम रहा है। बता दें कि दो दिन पहले भी भालू को जम्हर से पास लगे ग्राम रामपुर के आसपास देखा गया था, उस क्षेत्र में भालू ने दो ग्रामीण पर हमला कर घायल भी किया है। इसके बाद भालू जम्हर क्षेत्र में देखा गया था। इधर, वन विभाग ने रामपुर के दोनों घायल ग्रामीण को वन विभाग की ओर से 500-500 रुपए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की गई है। पिथौरा थाना प्रभारी केशव कोशले ने बताया कि जम्हर के जंगल में गुरुवार सुबह एक युवक की लाश मिलने की सूचना मिली थी। सूचना पर टीम जंगल पहुंचे जहां मृतक की शिनाख्त जम्हर निवासी कृष्ण कुमार पिता गोकुल बरिहा (42) के रुप में हुई। देखने से लग रहा है कि चेहरे व सिर को जंगली जानवरों ने नोंच लिया। है। ज्यादा कयास भालू पर लगाया रहा है क्योंकि भालू का क्षेत्र में देखा गया था।
मशुरुम तोडऩे गया था जंगल
थाना प्रभारी का कहना है कि पूछताछ के दौरान मृतक के परिजनों ने बताया कि 20 जुलाई की शाम मशुरूम तोडऩे जंगल जाने की बात कहकर निकला था। रात में जब वापस घर नहीं आया तो, सुबह गांव वाले जंगल की ओर तलाश करने गए। फिर भी नहीं मिला। गुरुवार को फिर उसे ढूंढने के लिए ग्रामीण जंगल के अंदर गए। उसी दौरान उसकी लाश मिली। इसके बाद इसकी सूचना पुलिस को दी। संभवत: मशुरूम तोड़ते समय मृतक का सामना भालू से हो गया और वह जान बचाकर भाग पाता भालू ने हमला कर मौत के घाट उतार दिया।
दो दिन पहले दो ग्रामीणों को किया था घायल
इधर, झलप क्षेत्र के डिप्टी रेंजर राकेश परिहार ने बताया कि ये वहीं भालू है, जो दो दिन पहले ग्राम रामपुर के तुलाराम पिता पुरन लाल (35) एवं रुप लाल पिता मंत्राराम गोंड़ (40) को घायल कर दिया था। ये दोनों घायल 20 जुलाई शाम चार बजे गांव के खल्लारी स्थापना के पास खड़े थे। तभी भालू वहां आ धमका, जिसे देख दोनों जान बचाकर भाग रहे थे, लेकिन भालू ने दोनों पर हमला कर दिया। इधर, ग्रामीणों को जैसे ही पता चला कि भालू को क्षेत्र से जंगल की ओर भगाए और घायलों को उपचार के लिए सीएचसीपटेवा लाया गया। दोनों का प्राथमिक इलाज के बाद उनके परिजन को विभाग ने आर्थिक सहायता राशि प्रदान की। रामपुर व ग्राम जम्हर का जंगल आसपास लगा हुआ है।