breaking news New

लाल किला हिंसा मामले में दीप सिद्धू गिरफ्तार

लाल किला हिंसा मामले में दीप सिद्धू गिरफ्तार

नई दिल्ली, 9 फरवरी। दीप सिद्धू 26 जनवरी के बाद से फरार थे. पुलिस ने पंजाब और हरियाणा में कई जगहों पर उनकी तलाश की और उन पर 1 लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया था. स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव कुमार यादव ने कहा, "हमने आरोपी दीप सिद्धू को गिरफ्तार कर लिया है." दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा में संलिप्तता के लिए दीप सिद्धू, जुगराज सिंह, गुरजोत सिंह और गुरजंत सिंह के बारे में जानकारी के लिए प्रत्येक पर 1 लाख रुपये का नकद इनाम रखा था और जजबीर सिंह, बूटा सिंह, सुखदेव सिंह और इकबाल सिंह पर 50,000 रुपये का इनाम घोषित किया था.

हिंसा में कम से कम एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे, जिनमें पुलिसकर्मी भी शामिल थे. पुलिस अब जांच करेगी कि उन्हें 26 जनवरी के बाद कहां से पनाह मिली और इसे किसने मुहैया कराया. जिन लोगों ने सिद्धू को शरण दी थी, वे भी कानूनी कार्रवाई का सामना कर सकते हैं. इससे पहले, एक अन्य सह-अभियुक्त सुखदेव सिंह को चंडीगढ़ से गिरफ्तार किया गया था.

31 जनवरी को सिद्धू ने अपने वेरिफाइड फेसबुक अकाउंट पर एक वीडियो अपलोड किया था. 15 मिनट के लंबे वीडियो संदेश 'सीधे दिल से' में उन्हें पंजाबी में एक भावनात्मक बयान देते हुए देखा गया, जिसमें उन्होंने कहा था, "मुझे बदनाम किया जा रहा है .. मैंने अपना पूरा जीवन पीछे छोड़ दिया और यहां पंजाबियों के विरोध में शामिल होने के लिए आया लेकिन अब मुझे देशद्रोही करार दिया जा रहा है."

उन्होंने तीन कृषि कानूनों के विरोध में सैकड़ों प्रदर्शन कर रहे किसानों को संबोधित करते हुए कहा था, "मैंने जो किया, वो आपके अधिकारों के लिए आवाज उठाने के लिए था. इतने महीनों से मैं सड़कों पर, टेंटों में सभी से मिल रहा हूं. अब एक शख्स को देशद्रोही बनाया जा रहा है." अपलोड करने के दो घंटे के भीतर, इसे 19,000 बार देखा गया था और इस पर 11,000 कमेंट किए गए थे.