breaking news New

आरएसएस दफ्तर पर पथराव, कार्यकर्ताओं से मारपीट, तीन आरोपी गिरफ्तार, दो पुलिसकर्मी सस्पेंड

आरएसएस दफ्तर पर पथराव, कार्यकर्ताओं से मारपीट, तीन आरोपी गिरफ्तार, दो पुलिसकर्मी सस्पेंड

मथुरा. आरएसएस दफ्तर पर पथराव के बाद कार्यकर्ताओं से मारपीट करने के तीन आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं तथा दो पुलिसकर्मी सस्पेंड हो गए हैं.

पुलिस ने बताया कि दफ्तर में हुई चोरी के आरोप में दो लड़कों को पुलिस के पास सौंपा गया था. इन लड़कों को हमलावर दल निर्दोष बता रहे थे तथा पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध कर रहे थे. आरोप है कि दफ्तर में मौजूद कई पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट भी की गई. पुलिस ने मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस ने बताया कि दफ्तर में हुई चोरी के आरोप में दो लड़कों को पुलिस के पास सौंपा गया था. इन लड़कों को हमलावर दल निर्दोष बता रहे थे तथा पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध कर रहे थे. गोविंद नगर थाना प्रभारी और पुलिस निरीक्षक एम पी चतुर्वेदी ने बताया, “संघ कार्यालय पर हमला करने के मामले में तीन युवकों को पकड़ लिया गया है, तथा बाकी की पहचान एवं तलाश जारी है. उनमें से कई अन्य को भी जल्द ही दबोच लिया जाएगा.“ उन्होंने बताया कि वे सभी समुदाय विशेष से संबंध रखते हैं.

चतुर्वेदी ने बताया, “संघ कार्यालय पर झगड़े की सूचना के बाद बीजेपी के नगर अध्यक्ष एवं महामंत्री आदि पदाधिकारी भी पहुंच गए थे. उनमें से महामंत्री राजू यादव ने ही पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है.“ पुलिस ने पार्टी पदाधिकारियों को आश्वस्त किया है कि इस मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी और बलवा करने वाले किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा. पुलिस किसी को भी शहर का माहौल बिगाड़ने नहीं देगी.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. गौरव ग्रोवर ने इस घटना से निपटने में लापरवाही बरतने के कारण मसानी पुलिस चौकी पर तैनात हेड कॉन्सटेबल शिशुपाल सिंह व कॉन्सटेबल मयंक कुमार को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है.