1 अप्रैल से शुरू होगा राशन वितरण, घर-घर पहुंचाएंगे राशन

1 अप्रैल से शुरू होगा राशन वितरण, घर-घर पहुंचाएंगे राशन

महापौर ने पार्षदों से मांगा सहयोग,पार्षदों ने कहा हम साथ है

तीन माह का राशन एक साथ मिलेगा लोगों को

भिलाई, 30 मार्च। कोरोना वायरस से जंग जीतने तैयारी हो गई है। महापौर व भिलाई नगर विधायक देवेन्द्र यादव के साथ सभी पार्षद एकजुट होकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई में योगदान देने तैयार हो गए हैं। 1 तारीख से घर-घर पीडीएस का राशन वितरण किया जाएगा और सभी पार्षद वालंटियर के साथ मिलकर घर-घर तक राशन खुद पहुंचाएंगे। शासन के आदेश के तहत लोगों को एक साथ तीन माह का राशन घर पहुंचाकर उपलब्ध कराया जाएगा। ताकि लोगों को आसानी से राशन मिल सके।

 महापौर व भिलाईनगर विधायक देवेंद्र यादव ने सभी पार्षदों और जोन कमश्निरों की बैठक बुलाई। बैठक में उपस्थित निगम के सभी पार्षदों से महापौर ने कोरोना के रोकथाम के सहयोग मांगा। साथ ही लोगो को राशन उपलब्ध कराने के संबंध में भी चर्चा की। तब सभी पार्षदों और एमआईसी मेंबरों ने कहा कि हम सब साथ है। और सभी एक साथ मिलकर इस कोरोना से जंग लड़ने के लिए तैयार हुए। सभी पार्षदों ने जिम्मेदारी उठाई की वे वालंटियर के साथ अपने अपने वार्ड की जनता के घर घर जाकर उन्हें पीडीएस का राशन पहुंचाएंगे। पार्षदो के इस पहल से सोशल डिस्टेंस बना रहेगा। राशन के लिए लोगो की भीड़ नहीं होगी। 

1 अप्रैल से सभी पार्षद अपने वार्ड में वालंटियर के साथ राशन बटन शुरू करेंगे। साथ ही पार्षदों ने कोरोना के रोकथम के लिए अपने सुझाव भी दिए। महापौर ने कहा कि कोरोना को हराने के लिए अब सब पार्षद भी अपने घर से निकल कर जनता के हित के लिए काम शुरू कर दिए हैं, जो बहुत अच्छी बात है।

लेकिन सभी पार्षद अपने स्वास्थ्य का भी ध्यान रखे,सावधानी बरतें और लोगों को भी जागरूक करें। इस संकट की घड़ी में महापौर व भिलाई नगर विधायक समाज सेवी संस्थाओं से भी सहयोग मांग रहे हैं ताकि सभी की मदद की जा सक

बाहर काम करने गए लोगों की भी मदद

महापौर ने बताया कि यदि किसी वार्ड के लोग रोजी मजदूरी करने के लिए दूसरे प्रदेश गए हैं और वहां फसे हैं तो उनका मोबाइल नबर बैंक एकाउंट नबर दें। वे राज्य सरकार से बात करके मदद उपलब्ध कराएंगे। इसी प्रकार अगर कोई बाहर से भिलाई में आकर काम कर रहा तो ऐसे लोगों की भी मदद की जाएगी। वार्ड के पार्षद और जोन कमश्निर की टीम वार्ड में निरीक्षण करेगी ताकि वार्ड में अगर कोई बाहर से आया हो या फिर कोई बीमार हो तो ऐसे लोगों का तत्काल चेकअप कराया जा सके। निगम की टीम स्वस्थ विभाग और पुलिस के सम्पर्क में रहेगी। ताकि जरूरत पड़ने पर मदद ली जा सके।