breaking news New

बाल दिवस: राजधानी में आज से दो दिवसीय राष्ट्रीय शिक्षा समागम कार्यक्रम, विभिन्न राज्यो से नवाचारी शिक्षकों का होगा आगमन

बाल दिवस: राजधानी में आज से दो दिवसीय राष्ट्रीय शिक्षा समागम कार्यक्रम, विभिन्न राज्यो से नवाचारी शिक्षकों का होगा आगमन

रायपुर। शिक्षा विभाग द्वारा 14 एवं 15 नवम्बर को राजधानी रायपुर में आयोजित पंडित जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम के दो दिवसीय कार्यक्रम का ‘पढ़ई तुंहर दुआर‘ वेब साइट, फेसबुक लाईव, यू-ट्यूब लाईव द्वारा प्रसारण किया जाएगा। राष्ट्रीय शिक्षा समागम का यह कार्यक्रम रायपुर के साइंस कॉलेज परिसर स्थित पं. दीनदयाल उपाध्य्याय ऑडिटोरियम में होगा। 

इस कार्यक्रम का शुभारंभ आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल करेंगे। राष्ट्रीय स्तर के इस समागम में विभिन्न राज्यो से नवाचारी शिक्षकों का आगमन हो रहा है, जिनके नवाचारी गतिविधियों व शिक्षाशास्त्रियों के नवीन विचारों का साझाकरण पढ़ई तुंहर दुआर वेबसाइट, फेसबुक लाईव, यू-ट्यूब लाईव द्वारा सीधा प्रसारण कर किया जाएगा। 

शिक्षा मंत्री डॉ. टेकाम ने बताया कि राष्ट्रीय शिक्षा समागम का उद्देश्य कोरोनाकाल में छत्तीसगढ़ राज्य में निर्बाध गति से सतत् व सक्रिय रूप से संचालित शिक्षा का राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन कर राज्य में हो रहे नवाचारी गतिविधियों से संपूर्ण देश को अवगत कराना तथा विभिन्न राज्यो के नवाचारी शिक्षकों से तारतम्य स्थापित कर शिक्षकों को नवीन विचारों व उनके नवाचारी उपायों से छत्तीसगढ़ की शिक्षा को और अधिक प्रभावी बनाकर राष्ट्रीय, अंतर्राष्ट्रीय स्तर तक लेकर जाना है। 

इस समागम से निकले विचारों का मंथन कर सरकार छत्तीसगढ़ की वर्तमान प्रणाली में सुधार करने का विचार करेगी। शिक्षा मंत्री ने शिक्षाविदों, शिक्षा के क्षेत्र में कार्यरत् संस्थाओं के प्रतिनिधियों, शिक्षकों से राष्ट्रीय शिक्षा समागम कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की है।