breaking news New

अंग्रेजो ने भारतीय लोगो की आवाज दबाने रौलट एक्ट बनाया प्रदेश में सीएम भूपेश वही काम कर रहे है: श्याम बिहारी

अंग्रेजो ने भारतीय लोगो की आवाज दबाने रौलट एक्ट बनाया प्रदेश में सीएम भूपेश वही काम कर रहे है: श्याम बिहारी

त्रिलोचन चक्रवर्ती, चिरमिरी/बैकुंठपुर। गृह विभाग के रैली, जुलूस और राजनीतिक कार्यक्रमों के लिए बनाए गए नए नियमो पर भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने प्रतिक्रिया देते हुए इसे कांग्रेस की हताशा का परिणाम बताया है।

जायसवाल ने कहा जैसे अंग्रेजो ने भारत के लोगो की आवाज को दबाने रौलट एक्ट लागू किया तब लोगो को इकठ्ठा होने की मना थी कोई प्रदर्शन करना अपराध था वही हालात भूपेश सरकार ने निर्मित कर दिए है, ऐसी तानाशाही को खतम करवाने ही गांधी जी ने सत्याग्रह आंदोलन किया था।

जायसवाल ने कहा आज के हालात जोगी शासन काल से भी बुरे है जनता बेहाल है उस पर अत्याचार किया जा रहा है। सरकार ऐसे काले कानून बनाती रही तो भाजपा मुख्यमंत्री के विधानसभा पाटन में जाकर प्रदर्शन करने मजबूर होगी।

जायसवाल ने कहा राज्य की कांग्रेस सरकार बेहद डरपोक है वो अपने खिलाफ कही जाने वाली हर बात को  सुनने पर असहज हो जाती है इसीलिए हर उस आवाज को दबाने का प्रयास हो रहा है जो राज्य सरकार के खिलाफ है।

उन्होंने कहा पहले विद्युत कर्मचारियों पर बर्बरता फिर किसानों के आंदोलन के टेंट उखाड़े जाना और अब राजनीतिक और सामाजिक रैली जुलूस के लिए निकाले गए नए नियम इस बात की पुष्टि करते है कि कांग्रेस सरकार का लोकतंत्र में कोई विश्वास नही रह गया और वो लोगो से सविधान द्वारा दिए अभिव्यक्ति के अधिकार छीनना चाहती है। इससे पहले भी सरकार में ऐसे सभी लोगो को जेल में ठूस दिया है जिन्होंने सोशल मीडिया तक में राज्य सरकार की आलोचना की है।

जायसवाल ने कहा कांग्रेस शासन में छत्तीसगढ़ में  अभिव्यक्ति की आजादी को कुचला जाना एक दमनकारी कृत्य है जिसे जनता कभी नही भूलेगी।