breaking news New

चरमराई यातायात व्यवस्था दुरुस्त करने एवं किसानों की समस्याओं को लेकर कलेक्टर से मिले भाजपाई

चरमराई यातायात व्यवस्था दुरुस्त करने एवं किसानों की समस्याओं को लेकर कलेक्टर से मिले भाजपाई


धमतरी।  नगर एवं आसपास के सघन आबादी वाले इलाकों में आये दिन हो रही दुर्घटनाओं से निजात पाने स्थायी समाधान की मांग को लेकर भाजपाइयों के प्रतिनिधिमंडल ने जिलाध्यक्ष ठाकुर शशि पवार के नेतृत्व में गुरुवार को कलेक्टर से मुलाकात की। कलेक्टर को सौंपे ज्ञापन में भाजपाइयों ने इसके लिये पेशेवर एजेंसी से विस्तृत कार्ययोजना बनाकर कार्य करने का सुझाव दिया।

चौराहों पर यातायात के दबाव को कम करने, वैकल्पिक मार्गों के निर्माण, बाय पास मार्ग के कार्य को निश्चित समय सीमा के अंदर पूर्ण कराने इत्यादि को लेकर विभिन्न सुझाव भी दिए गये। सैकड़ो की संख्या में हताहत हो रहे निर्दोष नागरिकों के लिये चिंता व्यक्त करते हुये इस कार्य को प्राथमिकता से करने की मांग भाजपाइयों द्वारा कलेक्टर से की गई। नगर के अंदर से होते हुये भारी भरकम वाहनों के द्वारा  क्षेत्र में रेत का परिवहन किया जा रहा है !

उक्त वाहनों के लिये वैकल्पिक मार्गों की व्यवस्था बनाने की आवश्यकता पर भी जोर दिया गया। प्रतिनिधिमंडल ने किसानों की विभिन्न समस्याओं पर भी जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया गया। विगत लगभग 6 माह से किसानों के यूरिया खाद उपलब्ध न होने से किसान परेशान है। रबी फसल की क्षतिपूर्ति को लेकर किसान लगातार मांग कर रहा है !


उसे अविलंब क्षतिपूर्ति राशि दिलाये जाने की मांग की गई साथ ही बैंकों के विलय के पश्चात IFSC कोड बदल जाने से विगत 3 महीने से किसान सम्मान निधि की राशि किसानों के खाते में नही आ रही जिसे लेकर किसान दुखी है ऐसे समस्त किसानों के खाते से संबंधित जानकारी दुरुस्त कर तत्काल भेजी जाये ताकि उन्हें किसान सम्मान निधि की सहयोग राशि प्राप्त हो सके इसकी भी मांग भाजपाइयों द्वारा रखी गयी।

रेत के परिवहन में लगी वाहनों का नगर सीमा में प्रवेश रात्रि 9 बजे तक प्रतिबंधित करने की बात भी कही गयी। इसके अतिरिक्त अन्य समस्याओं पर भी विस्तार से चर्चा की गई। भाजपा के प्रतिनिधिमंडल में जिलाध्यक्ष शशि पवार के साथ जिला महामंत्री कविन्द्र जैन, रामु रोहरा, अरविंदर मुंडी, चेतन हिंदुजा, विजय साहू, कपिल चौहान, विनोद पांडेय, निखिल साहू, संत कोठारी, गुलाब भारती तथा अन्य पदधिकारी उपस्थित थे।