breaking news New

सरवानी में नाबालिग कर रहे मनरेगा में काम

  सरवानी में नाबालिग कर रहे मनरेगा में काम
 

सक्ती। जिले के बम्हनीडीह जनपद पंचायत क्षेत्र के सरवानी गांव में श्रम नियमों को दरकिनार कर मनरेगा में नाबालिगोंबच्चों से काम कराया जा रहा है। वहीं सरपंच और रोजगार सहायक पर मनमाने तरीके से मस्टररोल बनाने का आरोप  गांव के  जनप्रतिनिधियों ने लगाया है। शिकायत मिलने के बाद जनपद सीईओ ने जांच टीम गठित कर दिया जो सोमवार को जांच करेगी।
गौरतलब है कि बम्हनीडीह ब्लाक अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को गांव में ही रोजगार उपलब्ध कराए जाने के लिए मनरेगा के तहत तालाब गहरीकरण सहित अन्य कार्य कराए जा रहे हैंए मगर विभागीय उदासीनता व पंचायत प्रतिनिधियों तथा रोजगार सहायकों के मनमाने रवैये के चलते पात्र हितग्राहियों को रोजगार उपलब्ध नहीं हो रहा है। दूसरी ओर नाबालिग बच्चों से तालाब गहरीकरण सहित अन्य कार्यों में काम लिया रहा है। जानकारी के अनुसार बम्हनीडीह ब्लाक अंतर्गत ग्राम पंचायत सरवानी में महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना के तहत नया तालाब गहरीकरण का कार्य कराया जा रहा है। यह कार्य रोजगार सहायक धनेश्वर श्रीवास की देख रेख में कराया जा रहा है मगर रोजगार सहायक के मनमाने रवैये के चलते ग्रामीणों में आक्रोश बढऩे लगा है। यहां कार्य के दौरान नाबालिगों को मिट्टी खोदने व फेंकने का कार्य कराया जा रहा है। वहीं नाबालिग बच्चे भी कुछ रूपए पाने के चक्कर में अपनी पढ़ाई छोड़ काम करने पहुंच रहे हैं।
इस मामले की शिकायत जनपद कार्यालय तक पहुँच चुकी है और जांच टीम का गठन किया गया है जो कि सोमवार को जांच करेगी।