रायफल बट बनाने की लकड़ी तस्करी करते तस्कर गिरफ्तार

रायफल बट बनाने की लकड़ी तस्करी करते तस्कर गिरफ्तार


परितोष शर्मा
महासमुन्द।
गांजा-शराब और सोना की तस्करी करने वालों के लिए महासमुन्द पुलिस अभिशाप साबित हो रही है। जिले की पुलिस ने अब वनोपज के तस्करों पर भी नकेल डालनी शुरू कर दी है। गत 14 सितंबर की रात कोमाखान पुलिस ने बिना कागजात के उड़ीसा से परिवहन कर लाये जा रहे काला तेंदू और सागौन के चिरान का जखीरा जब्त किया है।

जानकारी के अनुसार, 14 सितंबर की रात 9 बजे कोमाखान थाना प्रभारी प्रदीप मिंज और कोमाखान वन सर्किल के सहायक वन परिक्षेत्र अधिकारी भरतलाल साहू एवं दोनों विभाग की संयुक्त टीम द्वारा वनोपज जांच नाका टेमरी में उड़ीसा प्रदेश की ओर से आने वाले वाहनों की रुटीन जांच की जा रही थी। इस दौरान पिकअप वाहन क्रमांक सीजी 07 बी डी 6802 की जांच में सब्जी कैरेट के नीचे छुपाकर रखे गये 16 नग कार्टून में काला तेंदू टुकड़ी चिरान 2088 नग 0.424 घमी सागौन टुकड़ी चिरान 144 नग 0.013 घमी बरामद कर आरोपी जिला दुर्ग के सुपेला भिलाई निवासी प्रमोद साहू को हिरासत में लिया गया। वाहन को राजसात कर लिया गया है। आरोपी के खिलाफ  वन अधिनियम 1927 की धारा 41 एवं 42 नियम- 3 के तहत कार्यवाही की गई है।

जप्तशुदा चिरान 2202 नग 0.437 घमी कीमत 260995 रुपए को संभवत: रायफल का बट बनाने में उपयोग किये जाने की संभावना व्यक्त की जा रही है। ज्ञात हो कि प्रफुल्ल ठाकुर ने जबसे पुलिस अधीक्षक का पदभार ग्रहण किया है तब से हड़कंप है। खासकर तस्करों को कोई मौका नहीं मिल रहा है।