breaking news New

जेकेसीए करोड़ों रूपए के घोटाले में पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला फिर तलब

जेकेसीए करोड़ों रूपए के घोटाले में पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला फिर तलब

श्रीनगर।  प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन (जेकेसीए) के करोड़ों रूपए के घोटाले में पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला को फिर तलब किया है।

आधिकारिक सूत्रों ने ‘यूनीवार्ता’को बताया कि 84 वर्षीय डॉ. अब्दुल्ला को फिर से घोटाले की पूछताछ के लिए बुलाया गया।

इस सप्ताह में यह दूसरी बार जब डॉ़ अब्दुल्ला को ईडी ने श्रीनगर में बुलाया है। घोटाले के संबंध में सोमवार को उनसे छह घंटे तक पूछताछ की गई। नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि उन्हें पूछताछ के दौरान दोपहर का भोजन करने की भी अनुमति नहीं दी गई।

इस बीच नेका ने डॉ़ अब्दुल्ला को ईडी की ओर से मिले ताजा समन पर ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की और गुस्से का इजहार किया। उसने आरोप लगाया कि यह सरकार की असंतोष की आवाज को दबाने की कोशिश है।

पार्टी के प्रवक्ता इमरान नबी डार ने कहा ईडी का नया समन मुख्यधारा के राजनीतिक दलों के बीच एकजुटता बनाने के डॉ़ अब्दुल्ला के प्रयासों को विफल करने का प्रयास है।

उन्होंने कहा कि सरकार दबाव की रणनीति के तहत पूर्व मुख्यमंत्री को बार-बार समन जारी कर रही है। जबकि ईडी छह घंटे तक सांसद से पूछताछ कर चुकी है।

घोटाले के समय डॉ़ अब्दुल्ला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष थे। ईडी ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की प्राथमिकी के आधार पर मामला दर्ज किया है। सीबीआई ने जेकेसीए के पदाधिकारियों को आरोपी बनाया है जिनमें महासचिव मोहम्मद सलीम खान और पूर्व कोषाध्यक्ष अहसान अहमद मिर्जा शामिल हैं। इस पर भारतीय क्रिकेट क्रंटोल बोर्ड (बीसीसीआई) द्वारा खेल के बुनियादी ढांचे को विकसित करने और जम्मू-कश्मीर में क्रिकेट मैचों के आयोजन को लेकर दी गई धन को लेकर कथित हेराफेरी के आरोप है।