Breaking रूस ने 'शुक्र' ग्रह पर दावा ठोका, धरती से 10.8 करोड़ किलोमीटर दूर है 'शुक्र' ग्रह

Breaking रूस ने 'शुक्र' ग्रह पर दावा ठोका, धरती से 10.8 करोड़ किलोमीटर दूर है 'शुक्र' ग्रह

चाइना भले ही भारत सहित एक दर्जन देशों की जमीन पर पर अपना दावा करता आ रहा हो लेकिन इस मामले में रूस, चीन का बाप निकला. रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोसमोस ने 'शुक्र' ग्रह पर देश के स्वामित्व का दावा किया है.

धरती सूरज से 15 करोड़ किलोमीटर दूर है और शुक्र ग्रह 10.8 करोड़ किलोमीटर दूर. रूस के अंतरिक्ष निगम के प्रमुख दिमित्री रोगोजिन ने ग्रह का अध्ययन करने के लिए एक राष्ट्रीय परियोजना शुरू करने की भी घोषणा की. अंतरिक्ष एजेंसी के अनुसार, पृथ्वी के सबसे दूर के पड़ोसी का पता लगाने के लिए पहला मिशन सोवियत संघ द्वारा किया गया था इसलिए इस शुक्र ग्रह पर उनका स्वामित्व बनता है.

रोस्कोस्मोस ने एक बयान में दावा किया है कि संयुक्त राज्य अमेरिका ने वीनस यानि शुक्र ग्रह को सोवियत ग्रह कहा है. वैज्ञानिकों ने हाल ही में पता लगाया है कि शुक्र ग्रह में फॉस्फीन गैस होती है जो ग्रह पर सूक्ष्म जीवों के संभावित अस्तित्व की ओर संकेत करती है.