breaking news New

पुलिस को मिली सफलता: साढ़े पांच लाख के इनामी डकैत मुठभेड़ में ढेर

पुलिस को मिली सफलता: साढ़े पांच लाख के इनामी डकैत मुठभेड़ में ढेर

चित्रकूट। ददुआ और ठोकिया जैसे बड़े डकैतों के खिलाफ एक जमाने में पुलिस के मुखबिर के तौर पर माना जाने वाला आतंक का पर्याय दस्यु सरगना गौरी यादव को उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने मार गिराया।

चित्रकूट के जंगलों में एसटीएफ के एडीजी अमिताभ यश के नेतृत्व में एक संक्षिप्त मुठभेड़ में मारे गये डकैत पर उत्तर प्रदेश सरकार ने पांच लाख और मध्य प्रदेश सरकार ने 50 हजार का इनाम घोषित कर रखा था। उस पर उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में 50 से अधिक मुकदमे दर्ज थे।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि ददुआ और ठोकिया जैसे बड़े दस्यु सरगनाओं के खिलाफ एसटीएफ का मुखबिर रहने वाला डकैत आहिस्ता आहिस्ता जरायम की दुनिया का बड़ा अध्याय बन गया था जो दो प्रांतों की पुलिस के लिए मुसीबत बन बैठा था जिसको पिछले दो दशकों से यूपी और एमपी की पुलिस व एसटीएफ डकैत के खात्मे के लिए हर रोज़ जंगलों की खाक छानती थी, लेकिन शातिर डकैत हर बार बच निकलता था। 

गौरी का आतंक हर रोज़ बढ़ता जा रहा था। भाेर एडीजी एसटीएफ अमिताभ यश व उनकी पूरी टीम ने मुखबिर की सटीक सूचना से बहिलपुरवा के माधो जंगल मे घात लगाई और डकैत के साथ मुठभेड़ हो गई। जिसमें पुलिस फर्श को सफलता हाशिल हुई और डकैत गौरी को मार गिराया।