breaking news New

बिग ब्रेकिंग : रमनसिंह, अभिषेक सिंह, ननकीराम, धरम कौशिक, मोहिले, लता उसेण्डी ने उठाया कांग्रेस सरकार की योजना का लाभ, देखिए किसके खाते में कितनी राशि गई

बिग ब्रेकिंग : रमनसिंह, अभिषेक सिंह, ननकीराम, धरम कौशिक, मोहिले, लता उसेण्डी ने उठाया कांग्रेस सरकार की योजना का लाभ, देखिए किसके खाते में कितनी राशि गई

रायपुर. राजीव गांधी किसान योजना का लाभ भाजपा नेता भी उठा रहे हैं. सोशल मीडिया में एक लिस्ट वायरल हुई है जिसमें बताया गया है कि भाजपा के किस नेता ने किसान बनकर कितनी राशि योजना के तहत हासिल की. यानि उन्होंने कितना क्विंटल धान बेचा और इसके बदले में उनके खाते में कितनी राशि स्थानांतरित हुई!  

वायरल सूची के अनुसार भाजपा नेता राजीव गांधी किसान योजना का लाभ लेते नजर आ रहे हैं. पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमनसिंह, उनके बेटे और पूर्व सांसद अभिषेक सिंह ने एक किसान के रूप में लगभग 280 क्विंटल धान बेचकर दो लाख से ज्यादा रकम बनी जिसमें से उनके खाते में 50 हजार से ज्यादा रकम डाली गई बताया गया है.

इसी तरह ननकी राम कंवर ने 94 क्विंटल धान बेचकर 64 हजार की रकम बनी जिसमें से उनके खाते में 16 हजार से ज्यादा की रकम डाली गई है. उनकी पत्नी शकुंतला देवी कंवर ने 14 क्विंटल धान बेचा जिसमें 9590 रूपये राशि अर्जित की और उनके खाते में 2517 रूपये डाले गए.

नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक ने 139 क्विंटल धान बेचा जिसमें उन्हें 9532 रूपये की राशि अर्जित हुई और उनके खाते में 25029 रूपये ट्रांसफर किये गए. पूर्व मंत्री पुन्नूलाल मोहिले ने 312 क्विंटल धान बेचा जिसमें 213720 की राशि अर्जित की और उनके खाते में 561010 रूपये डाले गए. पूर्व मंत्री लता उसेण्डी ने 21 क्विंटल से ज्यादा का धान बेचा जिसमें उन्हें 14484 की राशि अर्जित हुई और उनके खाते में 3802 रूपये डाले गए.

छत्तीसगढ़ में भूपेश सरकार किसानों को धान का 1870₹ प्रति क्विंटल दे रही है व साथ ही 10000 प्रति एकड़ राजीव गांधी न्याय योजना के तहत सम्मान निधि दे रही है.

सूची में अन्य भाजपा नेताओं के नाम भी हैं जिन्होंने राजीव गांधी किसान योजना का लाभ उठाया. सोशल मीडिया में कांग्रेसी इस लिस्ट को जारी करके भाजपा नेताओं पर तंज कस रहे हैं. वे कह रहे हैं कि कम से कम किसान का हक तो छोड़ दिया होता. हालांकि यह तर्कसंगत नही लगता. यदि कोई किसान है तो योजना का लाभ पाने का अधिकार उसका भी है. सिर्फ किसी पार्टी का नेता होना किसान के अधिकार से वंचित केसे किया जा सकता है. हालांकि यह सूची की कितनी सत्यता है, इसका दावा नही किया जा सकता लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल हुई है.


10 हजार प्रति एकड़ देने का भाजपा ने विरोध किया : धनंजय सिंह ठाकुर, प्रवक्ता, प्रदेश कांग्रेस

"राजीव गांधी किसान न्याय योजना में किसानों को 10 हजार प्रति एकड़ देने का भाजपा ने विरोध किया तो दूसरी ओर भाजपा नेता खुद इसका लाभ उठा रहे हैं. यह दोहरा चरित्र है. मोदी सरकार ने छत्तीसगढ़ से चावल लेने के कोटा में कटौती की है. अब वह 60 लाख मीट्रिक टन की जगह 24 लाख मीट्रिक टन चावल ही लेगी. "