breaking news New

जैश-उल हिंद ने ली मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक रखने की जिम्मेदारी

जैश-उल हिंद ने ली मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक रखने की जिम्मेदारी

मुंबई।  महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में देश के सबसे अमीर बिजनेसमैन मुकेश अंबानी के घर के बाहर संदिग्ध कार में विस्फोटक बरामद किए जानने के मामले में पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे हैं। अब इस बीच मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक रखने के मामले में जैश उल हिन्द नाम के संगठन जिम्मेदारी ली है।
इस संगठन ने टेलीग्राम ऐप के जरिए इस बात की जिम्मेदारी ली है। कुछ दिन पहले इसी संगठन ने दिल्ली में इजरायल एम्बेसी के बाहर ब्लास्ट की जिम्मेदारी ली थी। बिटकॉइन से पैसे की डिमांड भी इस मैसेज में की गई है। मैसेज में एजेंसी को चैलेंज किया गया है कि रोक सकते हो तो रोक लो तुम कुछ नहीं कर पाए थे, जब हमने तुम्हारी नाक के नीचे दिल्ली में तुम्हें हिट किया था, तुमने मोसाद के साथ हाथ मिलाया, लेकिन कुछ नहीं हुआ। लास्ट में मैसेज लिखा है (मुकेश अंबानी के लिए) तुम्हें मालूम है तुम्हें क्या करना है बस पैसे ट्रांसफर कर दो, जो तुम्हें पहले बोला गया है।
उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर विस्फोटक मिलने के मामले में शनिवार को क्राइम ब्रांच ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। विस्फोटक एक स्कॉर्पियों कार में मिला था। वहीं इस मामले में एक इनोवा गाड़ी भी जुड़ी है। इनोवा को शनिवार को मुंबई से बाहर जाते देखा गया। मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच ने मुलुंड टोल नाके से सीसीटीवी फुटेज में इनोवा कार को देखा है। क्राइम ब्रांच ने कहा कि इनोवा गाड़ी को चेज किया जा रहा है। पुलिस का कहना है कि नया सीसीटीवी फुटेज महत्वपूर्ण है। इसमें ड्राइविंग सीट पर एक व्यक्ति दिख रहा है जो टोल का भुगतान करने के लिए झूठ बोलता है और फिर कार को ठाणे की ओर मोड़ लेता है। इनोवा कार के चालक की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है।
क्राइम ब्रांच ने बताया कि जिलेटिन स्टिक कहां से आया इसे लेकर भी जांच की जा रही है। टेरर एंगल के सवाल पर क्राइम ब्रांच ने कहा कि सारे ऑप्शन खुले हैं। वहीं यह भी बताया गया कि स्कॉर्पियों का मालिक भी जांच के दायरे से बाहर नहीं है।
अब तक 25-30 लोगों से पूछताछ हुई है और स्कॉर्पियो और इनोवा के ओरिजिन का पता नहीं चला है और तफ्तीश जारी है। स्कॉर्पियो को फारेंसिंक जांच के लिए भेजा गया है।