breaking news New

थाना अर्जुनी क्षेत्रांतर्गत ग्राम रांवा में दिनदहाड़े हुए चोरी का खुलासा

थाना अर्जुनी क्षेत्रांतर्गत ग्राम रांवा में दिनदहाड़े हुए चोरी का खुलासा

  धमतरी।  अंगेश्वर सिन्हा पिता हिंछा राम सिन्हा निवासी ग्राम रांवा थाना अर्जुनी जिला धमतरी ने रिपोर्ट दर्ज कराया किमैं परिवार के साथ ग्राम अरौद रिश्तेदारी में काठी कार्यक्रम में सम्मिलित होने गया था। कार्यक्रम पश्चात शाम करीबन 5:30 बजे वापस घर पहुंचकर देखा तो घर के पीछे के दरवाजा से कोई अज्ञात चोर घर में  अंदर घुसकर कमरे में रखे पेटी से सोने की चैन वजनी करीबन 11.660 ग्राम कीमती लगभग ₹55000/- को चोरी कर ले गया। उक्त रिपोर्ट पर थाना अर्जुनी में अज्ञात आरोपी के विरुद्ध धारा 454, 380 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

          पुलिस अधीक्षक श्री बी.पी. राजभानू को उक्त अपराध की सूचना मिलने पर थाना प्रभारी अर्जुनी को त्वरित कार्यवाही कर चोरी गए माल मशरूका एवं अज्ञात आरोपी की पता तलाश करने निर्देशित किया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  मनीषा ठाकुर रावटे ने दिनदहाड़े हुई चोरी में गांव अथवा आसपास के संदिग्ध व्यक्तियों  के संलिप्त होने की संभावना व्यक्त करते हुए समुचित दिशा निर्देश दिया गया। उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय  अरुण जोशी के पर्यवेक्षण में थाना प्रभारी अर्जुनी उमेंद टंडन ने थाना स्तर पर टीम गठित कर अज्ञात आरोपी एवं चोरी गए माल मशरूका की पता तलाश करने रवाना हुए। 

 गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम . नागेंद्र साहू उर्फ़ नागु पिता बिसम्बर साहू उम्र 22 वर्ष साकिन ग्राम रांवा थाना अर्जुनी जिला धमतरी,02. शंकर यादव पिता शिशुपाल यादव उम्र 40 वर्ष साकिन ग्राम रांवा थाना अर्जुनी जिला धमतरी,  राहुल यादव पिता यशवंत यादव उम्र 20 वर्ष साकिन ग्राम रांवा थाना अर्जुनी जिला धमतरी डिकेश्वर साहू पिता भरोस राम साहू उम्र 18 वर्ष साकिन ग्राम कुर्रा थाना भखारा जिला धमतरी।  

आरोपियों के कब्जे से चोरी गए माल मशरुका सोने की चैन वजनी करीबन 11.660 ग्राम कीमती लगभग ₹55000/- एवं 02 कट्टा धान बरामद किया गया। चारों आरोपियों ने पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल किया है। चारों आरोपियों को विधिवत गिरफ्तार कर वैधानिक कार्यवाही पश्चात न्यायिक रिमांड हेतु न्यायालय के समक्ष पेश किया गया है। 

        इस प्रकार थाना प्रभारी अर्जुनी उमेंद टंडन के नेतृत्व में सहायक उप निरीक्षक सुनील कश्यप, चंद्रशेखर देवांगन, प्रधान आरक्षक लक्ष्मीनाथ निर्मलकर, देवेंद्र राजपूत, आरक्षक प्रदीप साहू, सत्येंद्र दीक्षित व गोपाल द्वारा अज्ञात आरोपीयों की पतासाजी कर उनके कब्जे से चोरी गए माल माशरुका की शत-प्रतिशत बरामदगी करने में सफलता अर्जित की गई।