breaking news New

कवर्धा हिंसा के विरोध में उतरे भाटापारा भाजयुमो ने कांग्रेस भवन के सामने किया पुतला दहन

कवर्धा हिंसा के विरोध में उतरे भाटापारा भाजयुमो ने कांग्रेस भवन के सामने किया पुतला दहन


राजकुमार मल

भाटापारा:– कवर्धा में हुई हिंसा के विरोध एवं इस घटना के आरोपियों पर तत्काल कार्रवाई की मांग के साथ भारतीय जनता युवा मोर्चा द्वारा आज 7अक्टूबर को दोपहर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं कवर्धा विधायक एवं प्रदेश के मंत्री मो.अकबर खान का पुतला दहन कांग्रेस भवन के सामने (फवारा चौक) में किया गया जिसमें बड़ी संख्या में भाजयुमो,भाजपा के कार्यकर्ता मौजूद रहे इस दौरान पुलिस ने पुतलादहन रोकने की कोशिश भी की और पुलिस एवं कार्यकर्तओं में झूमा झटकी भी हुई लेकिन गुस्साए कार्यकर्ताओं ने पुतले पर अपना आक्रोश ज़ाहिर करते हुए उसे आग के हवाले किया, जिसमे कार्यकर्ता कामयाब हुए और दोनो पुतले को पूरी तरह से भस्म किया...भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने कहा कि कवर्धा में हिदुत्व का अपमान किया जा रहा है। जय श्री राम और ओम लिखे झंडे को उखाड़ा जा रहा है। वही हिन्दू भाइयों के साथ मारपीट भी की जा रही है। इतना ही नही छत्तीसगढ़ शासन के इशारे पर हिन्दू भाइयों के विरुद्ध एफ आई आर दर्ज भी की जा रही है,,जिलाध्यक्ष सुनील यदु ने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति यह है कि जिस प्रदेश के मुखिया को प्रदेश को चलाने के लिए प्रदेश की जनता ने जवाबदारी सौंपी है वह अपने नंबर बढ़ाने के चक्कर में प्रदेश को छोड़कर लखनऊ में धरना दे रहे हैं और अपनी कुर्सी बचाने के लिए प्रदेश सरकार की निगाह में बने रहने के लिए वहां पर मृतक 9 में से 5व्यक्तियों को 50 50 लाख का मुआवजा प्रदेश सरकार से दे रहे हैं जबकि बस्तर के इग्नोर में मई में हुए गोलीकांड में जब चार आदिवासी पुलिस की गोली से मारे गए तब प्रदेश के मुखिया के द्वारा मुआवजा तो दूर उनके मुख से संवेदना के 2 शब्द भी नहीं निकले...

कवर्धा में हुए तालिबानी प्रवृति का मुखर विरोध करते हुए भाजयुमो ने भाजपा कार्यालय से लेकर कांग्रेस भवन (फवारा चौक)के सामने तक भगवा ध्वज के साथ रैली निकालकर जमकर नारेबाजी की। वही गगनभेदी नारो के साथ कहा कि भूपेश बघेल डरता है पुलिस को आगे करता है,अखबर तेरी तानाशाही नही चलेगी नही चलेगी

क्या है मामला:– दरअसल पूरा विवाद कवर्धा के वार्ड नंबर 27 के लोहारा नाका चौक इलाके में झंडा लगाने को लेकर शुरू हुआ था। रविवार दोपहर कुछ युवकों ने अपना झंडा चौराहे पर लगा दिया। इसी बात को लेकर दो गुटों के युवक सड़क पर लाठी-डंडे लेकर उतर आए। पत्थरबाजी हुई साथ ही दो गुटों में मारपीट भी हुई। हैरत की बात यह है कि पुलिस मौके पर खड़ी थी और उनकी आंख के सामने भीड़ एक युवक को पीटती रही। मारपीट में 8 लोग घायल हुए हैं।

 उक्त कार्यक्रम में भाजयुमो जिलाध्यक्ष सुनील यदु(गोलू),मंडल अध्यक्ष मनिन्दर गुम्बर,जिला मंत्री महाबल बघेल,महामंत्री योगेश अंनत, गोपाल देवांगन,पुरुषोत्तम यदु, सुरेश मिश्रा, भाजयुमो अध्यक्ष शहर आशिष टोडर,आशिष पुरोहित,गोवर्धन डहरिया,अविनाश शर्मा,दिलीप यादव,अनिल चेलक,विजय यादव,प्रकाश दुलानी,दरवेश सबलानी,देवेन्द्र साहू,सूरज शर्मा,ग्रामीण महामंत्री पवन वर्मा,भाजयुमो अध्यक्ष ग्रामीण गोलू देवांगन,रवि वर्मा,पीताम्बर साहू,प्रमोद निषाद,ब्रिज जांगड़े,लखन साहू,दीपक जांगड़े,गोलू लहरे, नन्द किशोर वैष्णव, काके थदवानी, रविशंकर पांडे,भरत डहरिया, शुभम राजपूत,सुरेश वर्मा,जीवन वर्मा,भूपेंद्र साहू,योगा वर्मा,गोपी वर्मा,नागेंद्र वर्मा,सोमेश वर्मा,हिर्दयपुरी गोस्वामी,उमेश ठाकुर,अनिल यदु,विजय साहू,पीलू वर्मा, सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता गण व पदाधिकारीगण उपस्थित थे..