breaking news New

विधानसभा ब्रेकिंग : चंदूलाल चंद्राकर अस्पताल पर नया विवाद सामने आया..विधायक सौरभ सिंह ने उठायी बड़ी चूक..बृजमोहन बोले, 'जब मां नही है तो बच्चा कैसे हो गया

 विधानसभा ब्रेकिंग : चंदूलाल चंद्राकर अस्पताल पर नया विवाद सामने आया..विधायक सौरभ सिंह ने उठायी बड़ी चूक..बृजमोहन बोले, 'जब मां नही है तो बच्चा कैसे हो गया

अनिल द्विवेदी

रायपुर. छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज चंदूलाल चंद्राकार मेमोरियल हॉस्पिटल को लेकर एक नया विवाद खड़ा हो गया. अनुपूरक बजट पेश होने के बाद इस पर चर्चा चल रही थी तो भाजपा विधायक सौरभ सिंह ने सरकार की बड़ी चूक को उठाया।

उन्होंने कहा कि अस्पताल अभी निजी संपत्ति है, सरकारी संपत्ति नही है। ऐसे में इस पर चर्चा कैसे हो सकती है और अनुपूरक बजट में इस अस्पताल को शामिल कैसे कर लिया गया इसके बाद सरकार को सांप सूंघ गया। 

नेता प्रतिपक्ष धर्मेंद्र कौशिक ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा कि जब यह सरकारी संपत्ति हो जाएगा तब इस पर विधानसभा में चर्चा हो सकती है फिलहाल या अस्पताल निजी है और इस पर चर्चा कैसे कर सकते हैं।अनुपूरक बजट में सिर्फ सरकारी संपत्तियों पर ही चर्चा हो सकती है। इसके बाद सरकार के मंत्री इसका जवाब ढूंढते रहे। 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जोकि वित्त मंत्री भी हैं उन्होंने इस पर सफाई देते हुए कहा कि अभी सिर्फ बजट में प्रावधान किया है। इस पर चर्चा होगी। सदन से पास हो जाएगा तब आबंटन हो जाएगा। इस पर श्री अग्रवाल ने कहा कि जो चीज सदन से पास नही हुई है, वह शासकीय नही है। उस पर चर्चा कैसे हो सकती है। मंत्री अकबर ने कहा कि केबिनेट ने तय किया है। इस पर कौशिक ने कहा कि लेकिन विधानसभा से पास नही हुआ है। 

विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि क्या कोई अधिसूचना जारी हुई है। अगर नही तो यह चर्चा के लिए कैसे आ गया। उन्होंने कहा कि सदन में बिल पास नही हुआ है तो विनियोग अधिनियम में ये सफल कैसे हो गया।

जब मां नही है तो बच्चा कैसे हो गया? इसके बाद विपक्ष और सत्ता पक्ष दोनो ने आपसे सहमति से इस मुद्दे को शांत किया। बहरहाल सौरभ सिंह की इस जागरूकता की तारीफ सदन में खूब हुई।