breaking news New

रक्षा विनिर्माण क्षेत्र में स्टार्टअप और नवाचार इनोवेशन को समर्थन

रक्षा विनिर्माण क्षेत्र में स्टार्टअप और नवाचार इनोवेशन को समर्थन

नई दिल्ली । रक्षा मंत्रालय ने रक्षा विनिर्माण क्षेत्र में स्टार्टअप और नवाचार (इनोवेशन) को समर्थन देने के लिए 498.8 करोड़ रुपये की मंजूरी दी। रक्षा सचिव अजय कुमार ने कहा कि यह कदम रक्षा क्षेत्र में स्टार्टअप्स को बड़ा बढ़ावा देने वाला है। उन्होंने कहा कि इस मंजूरी से रक्षा विनिर्माण क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनने को काफी बढ़ावा मिलेगा।
रक्षा उत्पादन के अतिरिक्त सचिव संजय जाजू ने सोशल मीडिया पर कहा, आईडेक्स के लिए 498.8 करोड़ रुपये के बजटीय समर्थन के साथ योजना का लक्ष्य अगले पांच वर्षों में 300 स्टार्टअप और 20 पार्टनर इन्क्यूबेटरों का समर्थन करना है, ताकि कार्यात्मक प्रोटोटाइप का उत्पादन किया जा सके और रक्षा में नवाचार को बढ़ावा दिया जा सके।
इससे पहले, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि आईडेक्स या आईडीईएक्स पहल हमारे देश में बनाए गए सबसे प्रभावी और अच्छी तरह से निष्पादित रक्षा स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र में से एक है और यह आत्मनिर्भर भारत अभियान की भावना के साथ आत्मनिर्भरता प्राप्त करने की दिशा में एक निर्णायक कदम होगा।
सिंह ने कहा कि पहली बार देश में ऐसा माहौल बनाया गया है, जब रक्षा क्षेत्र में नवाचारों को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न हितधारकों को एक साथ लाया गया है।
2018 में रक्षा मंत्रालय ने इनोवेशन फॉर डिफेंस एक्सीलेंस (आईडेक्स) पहल की शुरुआत की थी।
आईडेक्स का उद्देश्य एक ऐसा पारिस्थितिकी तंत्र बनाना है जो अनुसंधान और विकास संस्थानों, शिक्षाविदों, उद्योगों, स्टार्ट अप और यहां तक कि व्यक्तिगत नवप्रवर्तकों को शामिल करके रक्षा में नवाचार को बढ़ावा दे और प्रौद्योगिकी विकास को भी प्रोत्साहित करे।