breaking news New

स्थानीय कांग्रेस भवन में पंथ गुरु बाबा घांसीदास जी की जयंती गरिमा व सादगी के साथ मनाई गई

स्थानीय कांग्रेस भवन में पंथ गुरु बाबा घांसीदास जी की जयंती गरिमा व सादगी के साथ मनाई गई

जगदलपुर, 18 दिसंबर। बस्तर जिला कांग्रेस कमेटी शहर के द्वारा आज की स्थानीय कांग्रेसी भवन में सतनामी समाज के धर्मगुरु गुरु घासीदास जी की जयंती गरिमा और सादगी के साथ मनाई गई  सर्वप्रथम उनके छायाचित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

उनकी जीवनी पर प्रकाश डालते हुए जगदलपुर के नगर निगम की महापौर सफीरा साहू ने बताया कि गुरु घासीदास 19वीं सदी के हिंदू धर्म के सतनामी संप्रदाय के सर्वोपरि माने जाते हैं उनका जन्म 18 दिसंबर 1756 को गिरौंदपुरी रायपुर जिले के तहसील बड़ौदा बाजार में हुआ था उनके पिता का नाम महंगू दास जी और माता जी का नाम अमरौतिन देवी था उनकी एक पत्नी थी जिनका नाम सफूरा था जब लोग ऊंच-नीच और छुआछूत जैसे जातिवादी के सामाजिक समस्याओं से घिरे हुए थे ऐसे समय में इस महान पुरुष में हमारे देश में लोगों को एकता और भाईचारा का पाठ पढ़ाया था गुरु घासीदास जी सत्यवादी थे और उन लोगों को भी साथ ही जीवन जीने की प्रेरणा दी उन्होंने अपना पूरा जीवन लोगों की सेवा और सामाजिक कार्य में बिता दिया। 


जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री अनवर खान पूर्व पार्षद राजेश चौधरी, कौशल नागवंशी आदि वक्ताओं ने भी अपने विचार रखते हुए बताया कि गुरु घासीदास जी विशेष रुप से छत्तीसगढ़ राज्य के लोगों के लिए सतनाम का प्रचार किया उनके बाद उनकी शिक्षाओं को उनके पुत्र बालक दास ने लोगों तक पहुंचाया गुरु घासीदास में छत्तीसगढ़ में सतनाम संप्रदाय की स्थापना की इसलिए आज उन्हें सतनाम पंथ का संस्थापक माना जाता है उन्होंने अपना जीवन बड़े ही सादगी से बिताया उन्होंने एक वृक्ष के नीचे तपस्या के माध्यम से अपनी शिक्षा ली थी उनके महान उपदेशों ने समाज के छुआछूत मूर्ति पूजा जैसे जाती पाती से जुड़े सामाजिक कु-प्रथाओं की हद तक को दूर किया था तथा बाद में उनके तपस्या के स्थान को एक पुष्प वाटिका के रूप में निर्मित किया गया कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ कांग्रेसी सतपाल शर्मा ने किया युवक कांग्रेस के विधानसभा अध्यक्ष शहनवाज़ खान उपस्थित जनों का आभार व्यक्त करते कार्यक्रम के समापन की घोषणा की ।

यह रहे मौजूद....

पूर्व पार्षद राकेश मौर्य, कैलाश नाग,सुरेंद्र झा, हरिशंकर सिंह,मोईन अख्तर,अंकित सिंह,गायत्री मगराज, नरेंद्र तिवारी,पापिया गाईन, छबिश्याम तिवारी, राजा तिवारी,महेश द्विवेदी, प्रवीण जैन,प्रेम ठाकुर,महेश ठाकुर,संदीप दास,नीलम कश्यप,धवल जैन,हर्ष जैन,मातीयस नम्रशिल, ललित नाहटा,सूरज नाहक, लोकेश नन्दा आदि कांग्रेस परिवार के सदस्यगण उपस्थित थे।