breaking news New

BREAKING : VIDEO चार दिवसीय छठ महापर्व नहाय खाय के साथ आज से प्रारंभ

BREAKING : VIDEO चार दिवसीय छठ महापर्व नहाय खाय के साथ आज से प्रारंभ

 

सुप्रसिद्ध भोजपुरी गायक और सुर संग्राम विजेता  वीरेन्द्र भारती, प्रख्यात लोक गायिका सुश्री सुनीता पाठक, छत्तीसगढ़ के गायक दिलीप षड़ंगी और अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्य नाटिका कलाकार सोनाली तरुण चोपड़ा द्वारा महादेव घाट पर 10 नवंबर को सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति की जाएगी ।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भुपेश बघेल 10 नवंबर को महादेव घाट के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह कार्यक्रम कि अध्यक्षता करेंगे ।महापर्व आयोजन समिति महादेवघाट के सदस्यों ने  दूसरे दिन भी महादेव घाट की सफाई की

खारुन नदी के तट पर छठ महापर्व 


रायपुर।  चार दिवसीय छठ महापर्व 8 नवंबर सोमवार को नहाय खाय के साथ प्रारंभ होगी। छठ महापर्व आयोजन समिति महादेवघाट, रायपुर के सदस्यों ने खारुन नदी के महादेव घाट की लगातार दूसरे दिन आज सफाई किये।  समिति के सदस्यों ने घाट पर सुबह पहुँचकर अपना श्रम दान किया और महादेव घाट की सफाई किये।

समिति के संस्थापक अध्यक्ष राजेश सिंह के नेतृत्व में संयोजक सुनील सिंह संचालक समिति के सदस्य रविंद्र सिंह, परमा सिंह, रामकुमार सिंह, संजय सिंह, मनोज सिंह, रविंद्र शर्मा, एम एन पांडेय, जयंत सिंह, संतोष सिंह, संतोष सिंह अवधिया, सरोज सिंह, एवं अन्य सदस्यों ने अपना श्रम दान किया और महादेव घाट की सफाई की। छठ महापर्व आयोजन समिति महादेवघाट के अध्यक्ष राजेश कुमार सिंह के मार्गदर्शन में छठ महापर्व का आयोजन महादेव घाट पर किया जा रहा है। 


समिति के संयोजक सुनील सिंह, समन्वयक सत्य प्रकाश सिंह और  संचालक समिति के सदस्य रविंद्र सिंह ने बताया कि रविवार को समिति के सदस्यों और रायपुर नगर निगम की सफाई टीम के द्वारा महादेव घाट की सफाई की गयी ।  


उन्होंने बताया कि चार दिवसीय छठ महापर्व सोमवार, नवंबर 8 को नहाय खाय के साथ प्रारंभ होगी। नहाय खाय के दिन पूरे घर की साफ- सफाई की जाती है और स्नान करने के बाद व्रत का संकल्प लिया जाता है।


इस दिन चना दाल, कद्दू की सब्जी और चावल का प्रसाद ग्रहण किया जाता है। अगले दिन खरना से व्रत की शुरुआत होती है। लोहंडा एवं खरना 9 नवंबर को होगा, संध्या अर्ध्य 10 नवंबर को होगा और उषा अर्ध्य 11 नवंबर को होगा। एक सांस्कृतिक कार्यक्रम 10 नवंबर को संध्या में महादेव घाट पर आयोजित किया जायेगा ।

सुप्रसिद्ध भोजपुरी गायक और सुर संग्राम विजेता


वीरेन्द्र भारती, प्रख्यात लोक गायिका सुश्री सुनीता पाठक और छत्तीसगढ़ के गायक दिलीप षड़ंगी द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति की जाएगी । प्रागराज, उत्तर प्रदेश की अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नृत्य नाटिका कलाकार सोनाली तरुण चोपड़ा और उनकी टीम के द्वारा झांकी की प्रस्तुति की जाएगी।    

उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भुपेश बघेल 10 नवंबर को महादेव घाट के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे।  पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह कार्यक्रम कि अध्यक्षता करेंगे ।


सूर्योपासना का अनुपम लोकपर्व

उन्होंने बताया कि छठ पर्व ही दुनिया का मात्र एक पर्व है जिसमें डूबते सूर्य एवं उगते की पूजा की जाती है। छठ पर्व को षष्ठी पूजा एवं सूर्य षष्ठी व्रत के नाम से भी जाना जाता है। यह पर्व कार्तिक शुक्ल पक्ष के षष्ठी को मनाया जाने वाला एक हिन्दू पर्व है। सूर्योपासना का यह अनुपम लोकपर्व मुख्य रूप से पूर्वी भारत के बिहार, झारखण्ड, पूर्वी उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और नेपाल के तराई क्षेत्रों मंर मनाया जाता है।


सूर्य और उनकी बहन छठी मइया को छठ पूजा समर्पित

छठ पूजा सूर्य और उनकी बहन छठी मइया को समर्पित है। त्यौहार और व्रत के अनुष्ठान कठोर हैं और चार दिनों की अवधि में मनाए जाते हैं। इनमें पवित्र स्नान, उपवास और पीने के पानी से दूर रहना, लंबे समय तक पानी में खड़ा होना और प्रसाद, प्रार्थना, प्रसाद और सूर्य देवता को अर्घ्य देना शामिल है।

छठ पर्व मूलतः बिहार एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोगों का महापर्व है। बिहार एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोग जिस देश एवं राज्यों में जाकर बसे वहां भी अपनी संस्कृति को आज भी बचाये हुऐ हैं। छठ महापर्व नेपाल, फिजी, मॉरिशस, सूरीनाम, गुयाना एवं अन्य देशों में भी मनाया जाता है। 


प्रमोद मिश्रा, अमित सिंह, सत्येन्द्र गौतम, रामविलास सिंह, कन्हैया सिंह, हरीश शुक्ला, राजपुरोहित रंजीत बाबा, मुकुल श्रीवास्तव, एम एन पांडेय, अरूण झा, अजय शर्मा, अनिल सिंह, गौरीशंकर गुप्ता, बाबुल यादव, नानू ठाकुर व अन्य सदस्य छठ पूजा को सफल बनाने में अपना योगदान दे रहे हैं ।