breaking news New

समग्र उड़िया गांड़ा स्वजनों हेतु निरंतर समाज सेवा की दिशा में कार्यरत

समग्र उड़िया गांड़ा स्वजनों हेतु निरंतर समाज सेवा की दिशा में कार्यरत


फ़ोरम ऑफ उड़िया(गांडा) कम्युनिटी के रूप में पहचान बना चुकी सामाजिक व्हाट्सएप ग्रुप

रायपुर, 19 मई।  समग्र उड़िया गांड़ा स्वजनों हेतु निरंतर समाज सेवा की दिशा में कार्यरत् रहती है फोरम ऑफ उड़िया गांडा कमेटी के सदस्य त्रिलोचन सोना ने कहा । हर समय हर अवसर पर यह ग्रुप अपने समाजसेवी भावनावश लोगों की सहायता हेतु तत्पर रहती है । जब जहाँ , जैसी ज़रूरत हो संस्था मदद करती रहती है । इसी तारतम्य में संस्था पुनः असहाय, ज़रूरतमंदों की निस्वार्थ भाव से सहायता कर रही है।

जहाँ एक ओर कोरोना की दूसरी लहर विभीषिका बनकर कहर ढा रही है वहीं दूसरी ओर सामाजिक संस्था के लोग अपनी परवाह न करते हुए निरंतर पीड़ित लोगों की हर संभव सहायता करने में जुटे हैं।

फोरम के सदस्यों ने नाम न छापने की शर्त पर फोन पर हुई चर्चा में उन्होंने बताया कि, इस बार उनकी संस्था बिना किसी प्रचार-प्रसार के, न ही सोशल मीडिया या पेपर प्रकाशन न ही फ़ोटो खिंचवाई के माध्यम से कार्य कर रही है । बल्कि साधारण तरीक़े से काम करते हुए पीड़ित लोगों को सूखा राशन, पक्का भोजन, पानी, और यथासंभव आर पहुँचा रही है । उक्त ग्रुप के समाजसेवी विष्णु छत्री एवं उत्कल नेत्री सावित्री जगत ने बताया कि, उनकी सहयोगी टीम रायपुर ज़िला के विभिन्न क्षेत्रों में पिछले कई दिनों से अनथक,सतत् लोगों के सेवाकार्य में जुटे हुए हैं । उन्होंने यह भी बताया कि, रायपुर में भी फोरम के कोरोना वॉरियर्स सदस्य विष्णु छत्री प्रकाश जगत सावित्री जगत सुनील सिका राजेश सिका संतोष सिका पुनीत राम छुरा भरत छुरा जितेंद्र तांडी प्रदीप छत्री प्रीतम महानंद लगातार पीडि़त जनों को मदद मुहैया करवाने में दिन-रात लगे हुए हैं ।

लोगों की निःस्वार्थ सेवा करना ही हमारी ग्रुप का मुख्य उद्देश्य और पराकाष्ठा है जिस पर यह ग्रुप सदैव खरी उतरती है ।

हमहमारे ग्रुप की यही सेवाभावना ही उसे अन्य संस्थाओं से उत्कृष्ट और सर्वोपरि बनाती है । और आगे भी निरंतर यह सेवाभाव जारी रहेगा जिससे समाज के लोगों को लाभ मिलता रहेगा।

फ़ोन पर हुई चर्चा में संस्था के इस लगन, समर्पितरूप और उन्मुक्त परोपकार को देखकर नत् मस्तक हुए बिना नहीं रहा गया । हम इस संस्था के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए साधुवाद देते हैं।