breaking news New

नियमितीकरण की मांग पर आंदोलन कर रहे मनरेगा कर्मियों मिल रहा जनसमर्थन

नियमितीकरण की मांग पर आंदोलन कर रहे मनरेगा कर्मियों मिल रहा जनसमर्थन

BAIKUNTHPUR। बैकुंठपुर महात्मा गांधी नरेगा योजना के अंतर्गत काम करने वाले अधिकारी कर्मचारियों का सत्याग्रह निरन्तर जारी है। अपनी 2 सूत्रीय मांगों को लेकर गत 4 अप्रैल से आंदोलन कर रहे मनरेगा कर्मियों ने सरकार की वायदाखिलाफी के लिए नया सत्याग्रह प्रारम्भ कर दिया है।

 मनरेगा महासंघ के जिलाध्यक्ष ने बताया कि महासंघ के निर्देश पर जिले में जल सत्याग्रह, बाइक रैली के अलावा कई तरह से गांधीवादी तरीके से अपनी बात सरकार तक ले जाने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन अब तक सरकार ने इस दिशा में कोई पहल नहीं की है।  

अपने आंदोलन को अलग अलग तरीके से प्रस्तुत करने वाले मनरेगाकर्मियों ने बीते दो दिन से अपनी नियमितीकरण की जायज मांग के लिए जनसमर्थन अभियान प्रारम्भ किया है। इसमे बाइक पर सवार होकर मनरेगा कर्मी जन जन तक पँहुच रहे हैं और सरकार की वायदाखिलाफी के बारे में विस्तार से जानकारी दे रहे हैं।

इसके लिए वह आम जन से सरकार के प्रभावशाली लोगों तक वायदे को याद दिलाने के लिए एक जनसमर्थन पत्र भी दस्तखत करवा रहे हैं। इस तरह जनता से अपनी जॉज मांगो का समर्थन लेने के बाद सरकार के द्वारा दिये गए वायदे की लिखित कॉपी भी हाट बाजार में जगह जगह सार्वजनिक क्षेत्र में चस्पा कर लोगों तक अपनी बात पंहुचाई जा रही है।

जिले के पदाधिकारियों ने बताया कि केवल जिला मुख्यालय बैकुंठपुर जनपद के सात हाट बाजार में कुल तीन  ही दिन में 3 हजार से ज्यादा आम कोरियावासी आंदोलन के समर्थन में हस्ताक्षर कर चुके हैं।

संघ के पदाधिकारियों ने बताया कि वह इस आंदोलन को गांधीवादी तरीके से निरन्तर जारी रखेंगे जब तक सरकार दोनों माँग पूरी नही करती है। जिले भर में 10 हजार से ज्यादा आम लोगों ने मनरेगा योजना के कर्मचारियों को अपना लिखित समर्थन किया है और यह जारी है।