breaking news New

पत्रकारिता के साथ साथ - सामाजिक जिम्मेदारी भी निभा रहा पत्रकार

पत्रकारिता के साथ साथ - सामाजिक जिम्मेदारी भी निभा रहा पत्रकार


जगदलपुर-  आजकल जहां लोग दो-चार रुपयों के लिए अपना ईमान खो देते हैं वहीं ऐसे लोग भी मौजूद हैं जो ईमानदारी की मिसाल हैं.यहां ईमानदारी की मिसाल पेश की है.पत्रकार धर्मेन्द्र महापात्र ने .बस्तर संभागीय मुख्यालय जगदलपुर में रहने वाले टीवी पत्रकार धर्मेन्द्र महापात्र बुधवार की सुबह साकेत कॉलोनी के सामने पाणिग्राही काम्प्लेक्स में स्थित एसबीआई एटीएम में पैसे निकालने गये थे.वंहा पहले से ही एक सख्श राशि आहरण कर रहे थे कुछ देर बाद वह शख्स चला गया.जब धर्मेन्द्र ने राशि निकालने एटीएम मशीन में स्वाइप किया तो मशीन ने कार्ड को एरर कर दिया !

जब उन्होंने कारण जानने रुपये निकालने वाली चेंम्बर में देखा तो पांच - पांच सौ रुपये के नोट देखा और उसे निकाल कर एटीएम के बाहर उस शख्स को देखने लगे मगर तक राशि आहरण करने आया शख्स जा चुके थे.धर्मेन्द्र ने इस बात की सूचना बोधघाट थाना प्रभारी धनंजय सिन्हा और SBI के चॉइस सेंटर के संचालक शैलेश अग्रवाल को दी दोनों ने ही एसबीआई मेन ब्रान्च से संपर्क किया और श्री महापात्र को बैंक में राशि जमा करने की सलाह दी.पत्रकार धर्मेन्द्र महापात्र स्वमं SBI मेन ब्रांच पहुँचे और शाखा प्रबंधक विपिन बिहारी को 10 हजार रुपये सौप दी.प्रबंधक ने ईमानदारी के लिये धर्मेन्द्र महापात्र को धन्यवाद ज्ञापित करते कहा कि ऐसे शख्स कम ही मिलते है जो रकम मिलने के बाद लौटा दे.


उन्होंने आश्वस्त किया कि एटीएम में लगे सीसीटीवी कैमरे में आहरण करने वाले सख्स की पहचान कर उसे राशि लौटा दी जाएगी.धर्मेन्द्र महापात्र पेशे से टीवी पत्रकार हैं और उन्हें लगा कि शायद सख्स को पैसे की आवश्यकता रही होगी तभी वे एटीएम तक आये थे मगर वे अपनी राशि भूल गये इस लिये उक्त राशि उनके तक पहुँचनी चाहिए क्योंकि लॉक डाउन में आम जनता काफी त्रस्त है एक एक रुपये भी आज काफी महत्वपूर्ण है.इसी लिये उन्होंने राशि बैंक को सुपुर्द कर दी.