breaking news New

मौके पर पहुंचकर प्रशासन ने रूकवाया नाबालिग का विवाह

मौके पर पहुंचकर प्रशासन ने रूकवाया नाबालिग का विवाह

कोरबा। कटघोरा विकासखंड के अंतर्गत एक गांव में नाबालिग के विवाह को रुकवाया गया। कटघोरा महिला बाल विकास को बाल विवाह की सूचना प्राप्त हुई। सूचना मिलते ही महिला बाल विकास निर्देश में एक संयुक्त जांच दल बाल विवाह रुकवाने के लिए पहुंची। दल में महिला व बाल विकास विभाग, पुलिस विभाग एवं के सदस्य मौजूद थे।
मिली जानकारी के अनुसार कटघोरा थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत धवईपुर के आश्रित ग्राम रामनगर में आज बाल विवाह की सूचना प्राप्त होने पर महिला बाल विकास परियोजना कटघोरा एवं पुलिस थाना कटघोरा की टीम के साथ निरीक्षण किया गया जिसमें रामनगर निवासी मुनीराम की दो पुत्रियों का विवाह आज होना पाया गया जिसमें एक पुत्री की आयु 18 वर्ष 1 माह 30 दिन थी वहीं दूसरी पुत्री नाबालिक थी। शासन के नियमानुसार बाल विवाह गैर-कानूनी है एवं बाल विवाह अधिनियम 2006 के तहत बाल विवाह करने पर एक लाख जुर्माना व 2 वर्ष की सजा का प्रावधान है साथ ही कोरबा जिले में कोरोना महामारी की स्थिति को देखते हुए 17 मई तक जिले में पूर्ण लॉकडाउन लगा हुआ है। साथ ही परिवार के सदस्यों को समझाइश देकर विवाह नही करवाने के निर्देश दिए गये तथा 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुकी पुत्री का विवाह लॉकडाउन के समाप्त होने के बाद अनुमति लेकर विवाह कराने कहा।