breaking news New

अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू ने कलेक्टरों और पुलिस अधीक्षकों से की वीडियो कॉन्फ्रेसिंग

अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू ने कलेक्टरों और पुलिस अधीक्षकों से की वीडियो कॉन्फ्रेसिंग


अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू ने कलेक्टरों और पुलिस अधीक्षकों से की वीडियो कॉन्फ्रेसिंग लॉक-डाउन के दौरान कानून-व्यवस्था, जन सुविधाओं की उपलब्धता और कोविड-19 संक्रमण की स्थिति की समीक्षा की

 वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में कई विभागों के सचिव भी रहे मौजूद, दिए आवश्यक निर्देश


रायपुर.  अपर मुख्य सचिव  सुब्रत साहू ने आज यहां वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश के सभी संभागायुक्तों, पुलिस महानिरीक्षकों, कलेक्टरों और पुलिस अधीक्षकों से चर्चा कर कोविड-19 का संक्रमण रोकने किए गए लॉक-डाउन के दौरान कानून-व्यवस्था और जन सुविधाओं की उपलब्धता की समीक्षा की। उन्होंने कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने सभी जिलों में की गई व्यवस्था के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने लॉक-डाउन के दौरान लोगों की सुविधा का ध्यान रखने और शासन के दिशा-निर्देशों के अनुसार जरूरी सुविधाओं का संचालन जारी रखने कहा। विभिन्न विभागों के सचिवों ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में अपने-अपने विभागों से संबंधित निर्देशों और सेवाओं के बारे में मैदानी अधिकारियों को विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने इनका पालन सुनिश्चित कराने आवश्यक निर्देश भी दिए।


वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में अपर मुख्य सचिव श्री साहू ने सभी नगरीय निकायों में साफ-सफाई की व्यवस्था को और पुख्ता करने कहा। उन्होंने सफाई कर्मचारियों को दस्ताने और मास्क उपलब्ध कराने के साथ ही कार्य के दौरान आवश्यक सावधानी बरतने कहा। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की सचिव श्रीमती अलरमेलमंगई डी. ने बताया कि बायो-मेडिकल वेस्ट का डिस्पोजल पर्यावरण संरक्षण मंडल द्वारा पंजीकृत एजेंसियों के माध्यम से मानकों के अनुरूप कराया जाना है। अपर मुख्य सचिव ने लॉक-डाउन के दौरान संचालन की अनुमति वाले उद्योगों में कर्मचारियों से अलग-अलग पालियों में काम करवाने कहा। उन्होंने औद्योगिक संस्थानों में छोटे-छोटे समूहों में कर्मचारियों को आने-जाने की अनुमति देने के निर्देश दिए। उन्होंने कार्यस्थल पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी सुनिश्चित करवाने कहा। 


अपर मुख्य सचिव ने सभी जिलों में कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने और इसकी रोकथाम की व्यवस्था की भी समीक्षा की। उन्होंने सभी जिलों को इसके लिए अस्पतालों में अलग से 100-100 बिस्तर सुरक्षित रखने कहा। उन्होंने बच्चों और गर्भवती महिलाओं के साथ ही पालतू पशुओं का भी नियमित टीकाकरण जारी रखने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग की सचिव श्रीमती निहारिका बारिक सिंह ने सभी अस्पतालों में पीपीई और सुरक्षा के अन्य साधनों का किफायत व सावधानीपूर्वक उपयोग करने कहा। उन्होंने सभी अधिकारियों से अपील की कि वे सर्जिकल मास्क का विवकेपूर्ण इस्तेमाल करें। व्यक्तिगत सुरक्षा संसाधनों को मेडिकल स्टॉफ के लिए बचाकर रखने की जरूरत है।


वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के प्रमुख सचिव श्री मनोज पिंगुआ, कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. मनिन्दर कौर द्विवेदी, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह, खनिज विभाग के सचिव श्री अन्बलगन पी., आबकारी विभाग के सचिव श्री निरंजन दास, स्वास्थ्य विभाग के आयुक्त श्री भुवनेश यादव, संचालक श्री नीरज बंसोड़, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला, मार्कफेड की प्रबंध संचालक श्रीमती शम्मी आबिदी, रायपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक श्री हिमांशु गुप्ता और जनसंपर्क विभाग के आयुक्त श्री तारन प्रकाश सिन्हा सहित अनेक वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।