breaking news New

प्रियंका अपने पुरोहित परिवार के सदस्य की मौत से दुखी

प्रियंका अपने पुरोहित परिवार के सदस्य की मौत से दुखी

मथुरा।  कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मानवता का परिचय देते हुए अपने पुरोहित परिवार में हुई असामयिक मौत पर दुःख प्रकट किया है।

कांग्रेस की वरिष्ठ नेत्री ब्रजबाला चतुर्वेदी ने पत्रकारों को श्रीमती वाड्रा द्वारा भेजे गए शोक संदेश को दिखाते हुुए कहा कि उनके छोटे भाई रवीन्द्रनाथ चतुर्वेदी का निधन 16 अगस्त को हो गया था। इसकी सूचना मिलने पर प्रियंका ने लिखा है कि उनके भाई के निधन की सूचना से उन्हें बहुत कष्ट हुआ है।

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने लिखा “ मुझे एहसास है कि आपको और आपके परिवार को इस पीड़ा को सहन करना कितना तकलीफदेह होगा। मै आपके और आपके पूरे परिवार के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करती हूं।” पत्र को “अपना ख्याल रखिये” से समाप्त किया गया है।

बकौल ब्रजबाला चतुर्वेदी पण्डित जवाहरलाल नेहरू के जन्म के समय मनौती के रूप में मोतीलाल नेहरू ने यमुना किनारे मारूगली में धर्मशाला बनवाई थी। उस समय नेहरू परिवार के पुरोहित उनके प्रपितामह बनकलेजी चतुर्वेदी थे। बाद में उनके बेटे गोपीनाथ चतुर्वेदी नेहरू खानदान के पुरोहित रहे। गोपीनाथ चतुर्वेदी के दो बेटे प्रकाशनाथ और कैलाशनाथ हुए। प्रकाश नाथ कश्मीरी पण्डितों और कैलाशनाथ गुजराती यजमानो के पुरोहित थे। रवीन्द्र कैलाशनाथ चतुर्वेदी के बेटे थे।

कांग्रेस नेत्री ने कहा कि प्रियंका गांधी ने उन्हें पत्र लिखकर संवेदना व्यक्त की है वह मानवता की मिसाल है जो उन्हें अपनी दादी से विरासत में मिली है क्योंकि प्रधानमंत्री के रूप में इन्दिरा गांधी भी उनके परिवार में मथुरा आई थीं।