breaking news New

अबूझमाड़ अब देश दुनिया के साथ दौड़ में शामिल

अबूझमाड़ अब देश दुनिया के साथ दौड़ में शामिल

तीसरा अबूझमाड़ पीस हाफ मैराथन 27 फरवरी को ,साढ़े तीन हजार से अधिक धावकों ने कराया पंजीयन: 25 फरवरी तक होगा पंजीयन,विजेताओं को मिलेंगे आकर्षक पुरस्कार

    रायपुर।  अबूझमाड़ भी अब देश दुनिया के साथ दौड़ में शामिल हो गया है। नारायणपुर जिले में अबूझमाड़ के नाम से जाना पहचाना नाम अब पुरानी बातों को पीछे छोड़कर विकास की दौड़ में शामिल हो गया है। यहां पर अब राज्य स्तर से लेकर राष्ट्रीय स्तर के खेलकूदों का आयोजन होने लगा है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी अबूझमाड के विकास की गूंज भी सुनाई देने लगी है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देश पर वन अधिकारपत्र धारी किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी गई। राज्य सरकार द्वारा अबूझमाड़ क्षेत्र में शिक्षा, स्वास्थ्य, आवास, सड़क निर्माण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। 

      अबूझमाड़ में तीसरी बार अबूझमाड़ पीस हाफ मैराथन-2021 का आयोजन 27 फरवरी 2020 को किया जा रहा है। ऑनलाइन पंजीयन में कुछ दिनों के भीतर प्रदेश के जिलों, दूसरे राज्यों एवं केन्या के धावकों सहित लगभग 3500 से अधिक धावकों ने ऑनलाईन पंजीयन किया है। पंजीयन की अंतिम तारीख 25 फरवरी है। लोगों में मैराथन को लेकर अच्छा-खासा उत्साह है। मैराथन में हिस्सा लेने के लिए इच्छुक धावक वेबसाईट http://www.abujhmadmarathon2021.com डब्ल्यूडडब्ल्यूडडब्ल्यूडॉटअबूझमाड़मैराथन2021डॉटकाम के लिंक का उपयोग कर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। बाहर से आने वाले धावकों के लिए रूकने एवं भोजन की निःशुल्क व्यवस्था रहेगी।

         मैराथन दौड़ में महिला एवं पुरूष वर्ग के लिए अलग-अलग पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। प्रथम पुरस्कार 1 लाख 21 हजार रूपए, द्वितीय 61 हजार रूपए, तृतीय 31 हजार रूपए, चतुर्थ 21 हजार रूपए और पंचम पुरस्कार 11 हजार रूपए प्रदान किया जाएगा। साथ ही 6वें से 10वें नंबर पर आने वाले महिला एवं पुरूष धावकों को 5-5 हजार रूपए की पुरस्कार राशि के साथ प्रशस्ति पत्र एवं मेडल प्रदान किया जायेगा। इसके अलावा नारायणपुर जिले के महिला एवं पुरूष 10-10 धावकों को 5-5 हजार रूपए की पुरस्कार राशि के साथ प्रशस्ति पत्र एवं मेडल अलग से प्रदान किया जाएगा।