breaking news New

जनधारा की खबर का फिर असर...सिद्धी विनायक हॉस्पिटल पर लगा ताला,चिकित्सक हुए ब्लेक लिस्टेड

जनधारा की खबर का फिर असर...सिद्धी विनायक हॉस्पिटल पर लगा ताला,चिकित्सक हुए  ब्लेक लिस्टेड

धमतरी । मगरलोड में संचालित सिद्धी विनायक हॉस्पिटल पर जुर्माना करते हुए इसे धमतरी जिले में संचालित किये जाने हेतु प्रतिबंधित किया गया है। इस चिकित्सालय के विरूद्ध लोगों की शिकायतों के आधार पर कार्यालय कलेक्टर सह पर्यवेक्षी प्राधिकारी जिला धमतरी द्वारा उक्त आदेश क्रमांक स्वास्थ्य/नर्सिंग होम एक्ट/2021/13010 दिनांक 19.7.2021 को जारी किया गया है। उक्त चिकित्सालय के विरूद्ध ढालसिंग निषाद, जितेंद्र कुमार साहू द्वारा गंभीर शिकायतें की गई थी जिसकी जांच के पश्चात उपरोक्त आदेश जारी किया गया है। उल्लेखनीय रहे कि सबसे पहले आज की जनधारा ने संबंधित हॉस्पिटल के खिलाफ उपरोक्त समाचार प्रकाशित कर प्रशासन का ध्यानाकृष्ट किया था और आखिरकार आज की जनधारा के खबर का बड़ा असर हुआ जिसके तहत उपरोक्त हॉस्पिटल पर जुर्माना के साथ साथ अस्पताल संचालन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है वहीं चिकित्सक को ब्लेक लिस्टेड कर दिया गया है। प्रशासन के इस निर्णय से क्षेत्र के ग्रामीणों ने बताया कि प्रशासन का यह निर्णय स्वागत योग्य है क्योंकि उपरोक्त अस्पताल में जनस्वास्थ्य  से खिलवाड़ की शिकायत लगातार मिल रही थी वहीं ग्रामीणों ने जनधारा अखबार को धन्यवाद ज्ञापित किया है।
    कार्यालय कलेक्टर सह पर्यवेक्षी प्राधिकारी जिला धमतरी द्वारा विजय जायसवाल पीएमएचएम (त्रिवर्षीय पाठ्यक्रम), श्री सिद्धी विनायक हॉस्पिटल, आरव पेट्रोल पंप के पास मगरलोड जिला धमतरी को क्लीनिक स्थापना पंजीयन एवं लायसेंसिंग धमतरी के पत्र क्रमांक नर्सिंग होम एक्ट/2020-21/1284 धमतरी दिनांक 19.1.2021 तथा कार्यालय पर्यवेक्षी प्राधिकारी क्लीनिक स्थापना पंजीयन एवं लायसेंसिंग धमतरी का पत्र क्रमांक/नर्सिंग होम एक्ट/2021/10492 धमतरी दिनांक 9.6.2021 विषयांतर्गत इनके विरूद्ध प्रथम शिकायत जितेंद्र कुमार साहू निवासी भेंसमुडी मगरलोड/समस्त मगरलोडवासी द्वारा असुविधाहीन हॉस्पिटल व एमबीबीएस चिकित्सक के नाम पर अधिक रकम वसूलने एवं द्वितीय शिकायत दिनांक 18.6.2021 जिसमें ढालसिंग निषाद पिता नाथूराम निषाद ग्राम बड़ी करेली एवं राजा निषाद 21 वर्ष पिता फूलसिंग निषाद ग्राम भोथा का गलत तरीके से उपचार करने उपरांत मृत्यु होने एवं बिना एमबीबीएस चिकित्सक के हॉस्पिटल संचालन की शिकायत की गई थी जिसके अनुसार गठित जांच दल द्वारा जांच किया गया।
    जांच दल द्वारा हॉस्पिटल छग राज्य उपचर्याग्रह तथा रोगोपचार संबंधि स्थापनाएं अनुज्ञापन नियम 2013 केे मापदंड के विपरीत संचालित करना पाया गया। साथ ही अधिनियम 2010 की धारा-12(ख) एवं धारा 13(क) व (ख) अनुसार दोशी पाये जाने पर दंडित किया गया है जिसके तहत उपरोक्त धारा 12 ख के तहत 50 हजार रूपये एवं धारा 13 क के तहत 10 हजार रूपये कुल 60 हजार रूपये जुर्माना किया गया है। निर्देशित किया गया है कि जुर्माने के राशि को पर्यवेक्षी प्राधिकारी धमतरी के नाम से डिमांड ड्राफ्ट बनाकर कार्यालय को जमा करें। साथ ही आदेश में यह भी उल्लेखित है कि मृतक स्व.फूलसिंग निषाद उम्र 50 वर्ष ग्राम भोथा के परिजनों से ईलाज हेतु लिये गये राशि 64700 रूपये का मृतक के पुत्र राजा निषाद पिता स्व.फूलसिंग निषाद ग्राम भोथा तहसील मगरलोड को नगद वापस किया जाये। आदेश क्रमांक 3 में उक्त कृत्य हेतु विजय जायसवाल पीएमएचएम त्रिवर्षीय पाठ्यक्रम योग्यताधारी निवासी जिला रायगढ़ को ब्लेक लिस्ट कर जनहित के स्वास्थ्य को दृष्टिगत रखते हुए उक्त हॉस्पिटल को पूर्णत: बंद कर धमतरी जिले में स्थापना संचालन प्रतिबंधित किया जाता है और तीन दिवस के भीतर उक्त जुर्माने की राशि संबंधित कार्यालय को प्रदाय कर आदेश के बिंदुओं का उल्लंघन किये जाने पर अधिनियम 2010 की धारा 12 क एवं धारा 13 क व ख की वर्णाधिकार अनुसार कार्यवाही की जायेगी।