breaking news New

पोस्ट ऑफिस में भी निवेश करना बेहतर, रिटर्न भी बैंक के मुकाबले ज्यादा

पोस्ट ऑफिस में भी निवेश करना बेहतर,  रिटर्न भी बैंक के मुकाबले ज्यादा

नईदिल्ली।   पोस्ट ऑफिस छोटे निवेशकों के लिए बेहतर रहता है. जिसमें किसी भी प्रकार का कोई जोखिम नहीं होता है, और रिटर्न भी बैंक के मुकाबले ज्यादा मिलता है. 

हर निवेशक को अपने निवेश पर ज्यादे मुनाफे की चाहत होती है. ऐसे लोगों को पोस्ट ऑफिस में जरूर निवेश करना चाहिए. क्योंकि बैंक के मुकाबले पोस्ट ऑफिस में फिक्स्ड डिपॉजिट पर ज्यादा ब्याज मिलता है. फिलहाल पोस्ट ऑफिस में टाइम डिपॉजिट पर 6.7 फीसदी तक ब्याज मिल रहा है. जबकि सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम में 7.4 फीसदी ब्याज दिया जा रहा है. 

आप महज 1000 रुपये में टाइम डिपॉजिट अकाउंट पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते हैं. इसके लिए आपको अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस जाना होगा. इसमें अधिकतम निवेश की सीमा नहीं है. जबकि महज 500 रुपये में आप पोस्ट ऑफिस में सेविंग अकाउंट खुलवा सकते हैं. 

 पोस्ट ऑफिस में 1 से 3 साल तक के लिए एफडी पर 5.5% ब्याज और 5 साल के लिए निवेश पर 6.7% ब्याज मिलेगा. यह ब्याज हर तिमाही के आधार पर कैलकुलेट किया जाता है. 

वैसे तो माता-पिता अपने बच्चों के नाम पर खाता खोल सकते हैं. लेकिन अगर बच्चे की उम्र 10 साल से ज्यादा है, तो वह खुद ही अकाउंट ऑपरेट भी कर सकता है. इसके अलावा आप इस स्कीम के तहत जितने चाहें उतने खाते खुलवा सकते हैं.

 पोस्ट ऑफिस के पांच साल के नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC) पर 6.8 फीसदी रिटर्न मिलता है. इसमें किए गए निवेश पर इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट भी मिलता है. इसमें किया गए निवेश पर 5 साल का लॉकइन पीरियड रहता है यानी 5 साल से पहले आप इससे पैसा नहीं निकाल सकते हैं.


इसके अलावा किसान विकास पत्र में निवेश करने पर 124 महीने में रकम डबल हो जाएगी. दूसरी तिमाही यानी 30 सितंबर तक इसमें इंट्रेस्ट रेट 6.9 फीसदी तय किया गया है. पोस्ट ऑफिस की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, इस स्कीम का मेच्योरिटी पीरियड 124 महीने यानी 10 साल 4 महीने है.