breaking news New

दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षा 15 से 24 मई तक होगी आयोजित

 दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षा 15 से 24 मई तक होगी आयोजित

कोरबा । छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा दसवी-बारहवीं की बोर्ड परीक्षा 15 अप्रैल से 24 मई तक आयोजित की जाएगी। दसवीं की परीक्षाएं 15 अप्रैल से एक मई तक तथा बारहवीं की परीक्षाएं तीन मई से 24 मई तक ऑफलाइन मोड में आयोजित की जाएगी। इन परीक्षाओं में नियमित, प्राईवेट तथा पत्राचार के माध्यम से सम्मिलित होने वाले विद्यार्थियों की परीक्षाएं अलग-अलग तिथि को आयोजित होगी।

जिले में दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षा के लिए 282 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। विद्यार्थी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मास्क तथा सेनेटाईजर का उपयोग करके परीक्षा देंगे। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने सभी परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षार्थियों के कोविड संक्रमण से बचाव के लिए पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिए हैं। कलेक्टर श्रीमती कौशल ने परीक्षा केन्द्रों की आकस्मिक निरीक्षण के लिए जिला स्तर पर छह निरीक्षण दल का गठन भी कर दिया है। गठित निरीक्षण दल परीक्षा तिथि को सुबह आठ बजे जिला कार्यालय में उपस्थित रहेंगे।

निर्धारित रूट अनुसार परीक्षा केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण करेंगे तथा बनाए गए नकल प्रकरण की जानकारी परीक्षा प्रभारी को अवगत कराएंगे। सभी दलों में दल प्रभारी सहित सदस्यों की संख्या पांच है। निरीक्षण दल में जिला स्तर के अधिकारियों को दल प्रभारी बनाया गया है। निरीक्षण दल में सदस्य के रूप में स्कूलों के व्याख्याता एवं शिक्षकों को शामिल किया गया है।
सभी परीक्षा केन्द्रों में जाएगी मेडिकल टीम, दूरस्थ क्षेत्र के परीक्षार्थियों के आने-जाने के लिए होगी वाहन की व्यवस्था - कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने कोविड महामारी के दौरान बोर्ड परीक्षाओं में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए विशेष पहल की है। कलेक्टर ने दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षाओं में शामिल परीक्षार्थियों की स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए स्थानीय स्तर पर सभी 282 परीक्षा केन्द्रों में मेडिकल टीम भेजने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए हैं।

मेडिकल टीम सभी परीक्षा केन्द्रों में जाकर विद्यार्थियों के स्वास्थ्य से संबंधित स्थिति तथा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए किए गए उपायों का जायजा लेंगे। बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले दूरस्थ क्षेत्रों के विद्यार्थियों के लिए परीक्षा केन्द्रों तक आने-जाने के लिए वाहन की भी व्यवस्था होगी। कलेक्टर ने जिले के दूरस्थ परीक्षा केन्द्रों में परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए आने-जाने के लिए वाहन की व्यवस्था करने के निर्देश जिला परिवहन अधिकारी को दिए हैं। परीक्षा केन्द्रों में वाहनों की व्यवस्था के लिए डिप्टी कलेक्टर  भरोसा राम ठाकुर को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।