breaking news New

मुंबई के पर्यटकों ने भी नारा लगाया : सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा

मुंबई के पर्यटकों ने भी नारा लगाया : सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा

 

       जगदलपुर।  बस्तर जिला के जगदलपुर शहर में विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा इन दिनों सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। प्रतिदिन हजारों की संख्या में सैलानी बस्तर दशहरा को देखने के लिए आते हैं। इसी बात को ध्यान में रखकर नगर निगम जगदलपुर ने जगदलपुर शहर वासियों के साथ मिलजुल कर स्वच्छता अभियान चलाया हुआ है। देसी विदेशी पर्यटक जब बस्तर जिला पर भ्रमण पर आते हैं वे अपने साथ हैं अच्छी छवि लेकर जाएं यह सभी की भावना होती हैं।

      नगर निगम के सौजन्य से स्वच्छता ब्रांड एंबेसडर शहरवासी युवोदय के वॉलिंटियर्स स्कूली बच्चे सभी प्रतिदिन सुबह 7:00 से 9:00 तक दंतेश्वरी मंदिर परिसर के आसपास सफाई करते हैं।

     आम शाहरियों के द्वारा मंदिर परिसर के आसपास स्वच्छता करते हुए देख कर महानगरी मुंबई से आए हुए हैं 25 लोगों के पर्यटकों का दल काफी प्रभावित नजर आया।


       मुंबई के पर्यटकों के  दल ने स्वच्छता से प्रभावित होकर स्वच्छता के कार्य पर चर्चा की । चर्चा करने के पश्चात मुंबई के पर्यटकों के इस दल ने स्वच्छता कार्य करने वाले सभी लोगों के साथ मिलजुल कर स्वच्छता संबंधी नारे लगाए साथ ही   आमचो सुघ्घर  बस्तर दशहरा का नारा भी लगाया।

     स्वच्छता के संबंध में जगदलपुर वालों ने एक नया नारा बनाकर उस पर कार्य करना शुरू कर दिया है ।सभी से अपील भी की है के सभी नारे के अर्थ को समझें और अमल मे लाएं  कचरा भले मत उठाएं लेकिन कचरा बिल्कुल भी ना करें।

        आज की स्वच्छता अभियान में प्रतिदिन स्वच्छता कार्य में सक्रिय होकर समर्पित  वरिष्ठ पार्षद योगेंद्र पांडे ,बी ललिता राव  के साथ पूर्व पार्षद एवं रेलवे बोर्ड के सदस्य रामाश्रय सिंह विशेष रूप से उपस्थित रहकर कार्य किए।


   स्वच्छता अभियान के ब्रांड एंबेसडर विधु शेखर झा कोटेश्वर राव नायडू डॉ डीके पाराशर आर एन पांडे अजय पाल सिंह बादशाह खान धीरज कश्यप सुलता महाराणा प्रतिदिन की तरह रहकर कार्य करते रहे।

     जगदलपुर शहर के स्वच्छता प्रेमियों के रूप में स्वच्छता कार्य में निरंतर कार्य करने वाले लखन लाल साहू डॉ सुषमा झा बीआर साहू शेखर शर्मा स्वच्छता के कार्य में समर्पित छात्राएं मधु आश्रिता और अनुष्पा विशेष रुप से उपस्थित रहकर कार्य किए।

   नगर निगम के अमला के रूप में स्वास्थ्य अधिकारी अरुण कुमार यादव स्वास्थ्य निरीक्षक हेमंत श्रीवास स्वास्थ्य पर्यवेक्षक दामोदर कुमार रवि श्रीवास्तव गोपाल भारती के साथ-साथ निगम के अन्य सफाई कर्मचारी कार्य में संलग्न थे।

     निगम आयुक्त प्रेम कुमार पटेल ने सभी शहर वासियों को संदेश देते हुए कहा  है कि कल दिनांक 17 अक्टूबर 2021 को दंतेश्वरी मंदिर के आसपास जन सहयोग से सफाई करने का अंतिम दिवस होगा इस स्वच्छता अभियान को यादगार बनाए रखने के लिए प्रातः 7:00 बजे से 9:00 बजे तक आप सभी सादर आमंत्रित हैं।