breaking news New

98 वर्षीय बुजुर्ग महिला ने कोरोना टीका की दूसरी डोज लगवाकर दिया जागरुकता का संदेश

98 वर्षीय बुजुर्ग महिला ने कोरोना टीका की दूसरी डोज लगवाकर दिया जागरुकता का संदेश

सुदूर वनांचल क्षेत्रों में पहुंच कर कोविड टीकाकरण विशेष महाभियान को सफल बना रही स्वास्थ्य विभाग की टीम 

राजनांदगांव। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जहां कोरोना टीकाकरण पर लगातार जोर दिया जा रहा है, वहीं जन जागरुकता व जन स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए भी नित नए उपाय भी किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में जिले के सुदूर अंचल में रहने वाली 98 वर्षीय बुजुर्ग महिला ने कोरोना टीके की दूसरी डोज लगवाकर जिलेवासियों को जागरुकता का संदेश दिया है।

छुईखदान विकासखंड के ग्राम नचनिया (साल्हेवारा) निवासी 98 वर्ष की बुजुर्ग महिला रासोबाई की यह सहभागिता इस बात को प्रदर्शित करती है कि कोरोना संक्रमण से सुरक्षा के लिए वैक्सीनेशन जरूरी है जिसकी जागृति अब दूरस्थ अंचलों में निवास करने वाले ग्रामीणों तक पहुंच रही है। वह जागरूकता का संदेश दे रही हैं।

इस संबंध में जिला टीकाकरण अधिकारी डा. बीएल तुलावी ने बताया, वर्तमान में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जन स्वास्थ्य सुरक्षा को चुनौती के रूप में लेकर कार्य किए जा रहे हैं। छूटे हुए लोगों को कोरोना टीका लगवाने के लिए लगातार प्रेरित किया जा रहा है और इसी प्रयास के अंतर्गत 98 साल की बुजुर्ग महिला रासो बाई को भी कोरोना टीके की दूसरी डोज लगाई गई है। इसके साथ ही लोगों से टीका लगवाने के साथ-साथ कोरोना से बचाव हेतु आवश्यक नियमों का अनिवार्यतः पालन करने की अपील की जा रही है।

कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा के नेतृत्व में स्वास्थ्य और राजस्व विभाग की टीम कोविड टीकाकरण विशेष महाभियान में समर्पित होकर कार्य कर रही है। जन स्वास्थ्य सुरक्षा को प्राथमिकता में रखकर संवेदनशील क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन बनाए जा रहे हैं तथा लोगों को  कोरोना प्रोटोकाल का अनिवार्य रूप से पालन करने के प्रति जागरुक किया जा रहा है। ऐसे ही प्रयासों के परिणाम स्वरूप कोरोना संक्रमण से सुरक्षा के लिए कोविड टीकाकरण की जागरूकता भी अब सिर्फ शहरों, कस्बों के युवा-बुजुर्गों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि सुदूर वनांचल क्षेत्रों के गांवों में निवास करने वाले बुजुर्गों तक भी पहुंच रही है।

शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में कुल 168 कंटेनमेंट जोन बनाए

कोरोना संक्रमण की रोकथाम का प्रयास करते हुए ही कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी तारन प्रकाश सिन्हा के निर्देश पर जिले में शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 168 कंटेनमेंट जोन बनाए हैं। इनमें अंबागढ़ चौकी ग्रामीण में 1, छुईखदान विकासखंड में शहरी में 2, ग्रामीण में 1, छुरिया विकासखंड में शहरी में 1, डोंगरगांव विकासखंड में शहरी में 2, ग्रामीण में 1, डोंगरगढ़ विकासखंड में शहरी में 10, ग्रामीण में 3, खैरागढ़ विकासखंड में शहरी में 3, ग्रामीण में 2, मानपुर विकासखंड में ग्रामीण में 3, मोहला विकासखंड में ग्रामीण में 3, राजनांदगांव विकासखंड में शहरी में 122, ग्रामीण में 14 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं।

कोविड प्रोटोकाल के लिए किया जा रहा जागरूक

कोविड-19 संक्रमण पर नियंत्रण हेतु नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा नागरिकों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन अनिवार्यतः करने के प्रति लिए जागरूक किया जा रहा है। मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन और हाथों को सेनेटाईज करने व भीड़-भाड़ वाले स्थानों में नहीं जाने के लिए लगातार मुनादी कराई जा रही है। नागरिकों को समझाइश दी जा रही है कि आवश्यकता पड़ने पर ही घर से बाहर जाएं। घर से बाहर निकलने पर मास्क का उपयोग जरूर करें। सर्दी, खांसी, बुखार के लक्षण आने पर कोविड टेस्ट जरूर कराएं। इसके अलावा मॉस्क नहीं लगाने वालों पर लगातार कार्रवाई भी की जा रही है। नगरीय निकायों द्वारा अब तक 317 लोगों पर चालानी कार्रवाई की गई।