breaking news New

देश में 100 करोड़ कोरोना टीके लगने का आंकड़ा पार

देश में 100 करोड़ कोरोना टीके लगने का आंकड़ा पार

राजनांदगांव। कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण तथा इससे बचाव के लिए देश में 100 करोड़ से अधिक कोरोना टीके लगाने का आंकड़ा पार हो गया है। वा लिया है जिससे आज पूरा देश गौरवान्वित है। गौरव के इस क्षण को यादगार बनाने के प्रति उत्साहित स्वास्थ विभाग ने एक नया संकल्प लिया है। नया संकल्प है, जन-जागरूकता व जनभागीदारी के साथ जिले में शत-प्रतिशत कोरोना टीकाकरण का लक्ष्य अब जल्द से जल्द पूरा करने का प्रयास किया जाएगा। 

देश में 100 करोड़ से अधिक कोरोना टीके लगने से यह स्पष्ट हो चुका है कि कोरोना टीका पूर्ण रूप से सुरक्षित है, इसे लगवाने से कोई खतरा नहीं है बल्कि यह जीवनरक्षक ही है। प्रशासन द्वारा भी इस आशय पर जोर देने के परिणाम स्वरूप टीकाकरण कराने वालों की संख्या जिले में लगातार बढ़ रही है। जिला प्रशासन के दिशा.निर्देशन में स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाए जा रहे जागरुकता अभियान से प्रभावित लाभार्थियों ने खुद तो टीका लगवाया ही, अन्य लोगों को भी उन्होंने टीका लगवाने हेतु प्रेरित करने का काम किया है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम व इससे बचाव तथा संभावित तीसरी लहर की आशंका के बीच जिले में कोरोना टीकाकरण कार्य तेजी से संचालित किया जा रहा है। 

गांवों में कराई जा रही मुनादी

कोरोना टीकाकरण हेतु ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए एक दिन पूर्व मुनादी कराई जा रही है। कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम स्वास्थ्य विभाग के साथ ही महिला एवं बाल विकास विभाग, पंचायत विभाग और राजस्व विभाग के समन्वय से किया जा रहा है। इन प्रयासों के फलस्वरूप जिले में अब तक लगभग 85.25 प्रतिशत लोगों ने पहला तथा लगभग 43.40 प्रतिशत लोगों ने दूसरे डोज का टीका लगवा लिया है, जो उत्साहवर्धक है। टीका लगवाने के लिए जिले में हर वर्ग के लोग उत्साह से सामने आने लगे हैं। टीकाकरण में सबसे ज्यादा युवाओं की रुचि दिख रही है। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. बीएल तुलावी ने बताया, देश में 100 करोड़ टीकाकरण पूर्ण होना निसंदेह काफी उत्साहवर्धक है। कोरोना संक्रमण पर पूरी तरह नियंत्रण के लिए जिले में भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। गांव-गांव में कोरोना टीकाकरण किया जा रहा है।

जिन लोगों ने टीका का पहला डोज ले लिया हैए उनसे अपनी बारी आने पर दूसरी खुराक भी अनिवार्य रूप से लेने की अपील की जा रही है। जन-जागरूकता व जनभागीदारी के साथ जिले में शत-प्रतिशत कोरोना टीकाकरण का लक्ष्य भी जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा। डॉ. तुलावी ने बताया, पहली खुराक शरीर के वायरस को पहचानने में मदद करती है और भविष्य में संक्रमण से बचाने के लिए प्रतिरक्षा प्रणाली तैयार करती है, जबकि दूसरी खुराक उस प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को और अधिक मजबूत करती है। इससे शरीर कोविड संक्रमण से लड़ने के लिए पूरी तरह तैयार हो जाता है।

इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथिलेश चौधरी ने बताया, श्देश में 100 करोड़ से अधिक कोरोना टीकाकरण पूर्ण किया जाना गौरव का विषय है। जिले में भी कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए टीकाकरण को एक महत्वपूर्ण चुनौती के रूप में लेकर कार्य किया जा रहा है, आने वाले दिनों में कोरोना टीकाकरण की गति और बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। जिले में अब तक लगभग 85.25 प्रतिशत लोगों को पहला तथा लगभग 43.40 प्रतिशत लोगों को दूसरा डोज का टीका लगाया जा चुका है। इसके अलावा टीकाकरण लगातार जारी है। जिन व्यक्तियों ने अभी तक टीका नहीं लगवाया है, उन्हें भी कोरोना से सुरक्षा का टीका अनिवार्य रूप से लगवाना चाहिए।