breaking news New

दीप प्रज्वलित कर किसान नेता योगेश तिवारी ने नवरात्रि झांकी कार्यक्रम की शुरुआत की

दीप प्रज्वलित कर किसान नेता योगेश तिवारी ने नवरात्रि झांकी कार्यक्रम की शुरुआत की


 बेमेतरा,   ब्रह्मकुमारी आश्रम में दीप प्रज्वलित कर किसान नेता योगेश तिवारी ने नवरात्रि झांकी कार्यक्रम की शुरुआत की । इस दौरान शशी बहन ने किसान नेता को नवरात्रि पर्व में माता के महिमा की जानकारी झांकी के माध्यम से देने और मनुष्य जीवन के महत्व के बारे में विस्तार से समझाया । कार्यक्रम में किसान नेता ने कहा कि दुर्गा शक्ति की प्रतीक मानी जाती हैं । दुर्गा को लक्ष्मी, सरस्वती व अन्य रुपों में दिखाया जाता है । भारत में नारी पूजी जाती है और दुर्गा पूजा के अवसर पर कन्याओं की पूजा का प्रचलन आज भी है। दुर्गा शक्ति की प्रतीक है। लक्ष्मी धन व सरस्वती विद्या की जननी हैं । देवियों को अष्टभुजा दिखाया जाता है। अष्टभुजा शक्तियों का प्रतीक होता है जिसमें मुख्य रुप से सहनशक्ति, समाने की शक्ति, परखने की शक्ति, निर्णय करने की शक्ति, सामना करने की शक्ति, सहयोग की शक्ति, विस्तार को छोटा करने की शक्ति और समेटने की शक्ति है ।


शशि बहन ने कहा कि आज मनुष्य के अंदर असुर विराजमान है जो कि काम, क्रोध, लोभ, मोह और अहंकार के तौर पर पांच बड़े राक्षस शरीर में हैं। इसके विपरीत दया, करुणा, प्रेम, क्षमा आदि देवीय संस्कार भी हमारे अंदर हैं।  ब्रह्माकुमारी आश्रम में आकर मनुष्य अपने खोए हुए देवत्व को पुनः प्राप्त कर सकता । अजय मिश्रा जीवन गायकवाड़ संतोष साहु शिवम तिवारी उपस्थित थे