breaking news New

चूहों, छछूंदरों से पैदा होने वाली घातक बीमारी 200 साल पुरानी, दो मासूमों की ले ली जान

चूहों, छछूंदरों से पैदा होने वाली घातक बीमारी 200 साल पुरानी, दो मासूमों की ले ली जान

पन्ना।  देश कोविड से लोग आतंकित है अभी लोग इस कोरोना से उबर भी नहीं पाए है  कि चूहों का आतंक शुरू हो गया।  चूहों से घातक  बिमारी ने जन्म ले  लिया है । जो 200 साल पुरानी है। 

मध्य प्रदेश के शहर पन्ना में स्क्रब टाइफस फिर से लोगों में फैलने लगी है, चूहों, छछूंदरों से बीमारी पैदा होती है।  पन्ना में इस बीमारी से 2 मासूम बच्चों की मौत भी हो चुकी है.अब तक पन्ना में चार लोगों में इस बीमारी से पीड़ित मिले है।  यह बीमारी  लगभग 200 साल पुरानी बीमारी है। 

भोपाल से स्टेट इंट्रोलॉजिस्ट टीम पन्ना आई है. चूहों को पकड़ कर उनके सैम्पल ले रही है. जहां इस बीमारी के मरीज मिले हैं. टीम वहां जाकर . जिसे जांच के लिए भोपाल ले जाया गया है. पन्ना में अब लोग अपने घरों में चूहों को देख कर डर रहे हैं. 

इस बीमारी के लक्षण में मरीज को तेज बुखार आता है. इसके अलावा सिर दर्द, मांसपेशियों में दर्द, सांस फूलना, खांसी, जी मिचलाना, उल्टी होना इसके अन्य लक्षण हैं. कुछ मामलों में शरीर पर सूखे चकते भी हो सकते हैं. 

 चिकित्सकों के मुताबिक इससे बचने के लिए खेतों में काम करते समय हाथ-पैर को ढक कर रखना चाहिए और साफ-सफाई का ध्यान रखना चाहिए. 

स्टेट स्क्रब टाइफस प्रभारी शेलेन्द्र सिंह ने बताया कि स्क्रब टायफस बीमारी जेनेटिक बीमारी है चूहों पर संक्रमित लारवा होता है. जिसके काटने से बीमारी होती है. अभी पन्ना में दो केस पाए गए हैं. जिनकी मौत हुई है. इसके बाद चूहों और स्थानीय लोगों के सैंपल लिए गए हैं ताकि यह पता चल सके कि यह बीमारी कहां से हुई है. 

स्टेट एंटरोलॉजिस्ट भोपाल से आए थे. उन्होंने सैंपल लिए हैं. डॉ. गुंजन सिंह ने बताया कि चूहों के ऊपर जो माइट्स होते हैं. उससे बीमारी फैलती है. यह 200 साल पुरानी बीमारी है जो पन्ना में अभी भी पाई जा रही है. पन्ना में अभी 4 केस पाए गए हैं. जिसमें 2 लोगों की मौत हो चुकी है.