breaking news New

ग्राम तुड़गे घाट से अवैध रेत निकासी, ग्रामीणों में रोष प्रदर्शन की चेतावनी

ग्राम तुड़गे घाट से अवैध रेत निकासी, ग्रामीणों में रोष प्रदर्शन की चेतावनी

भानुप्रतापपुर, 13 जनवरी। ग्राम तुड़गे के खंडी नदी से अवैध रेत निकासी बंद कराने जिला खनिज अधिकारी कांकेर के नाम से ग्रामीणों ने बुधवार को एसडीएम कार्यालय एवं पुलिस थाना में ज्ञापन सौपे है। यदि इस पर रोक नही लगाई गई तो 14 जनवरी ग्रामीणों द्वारा विरोध प्रदर्शन की जावेगी जिसकी सम्पूर्ण जवाबदेही ठेकेदार व शासन प्रशासन की होगी।

ग्राम पंचायत चवेला के सरपंच रामेश्वरी पटेल एवं  ग्रामीण सामसिह,जीवन लाल नेताम, मंशाराम नेताम,पुरुषोत्तम महला,सीयाराम, दिनेश, पीलू राम,कन्हैया, जागेश्वर नेताम, राम दयाल पटेल,मनोहर, छेरकु राम धर्मेन्द्र, समारू,विजय,हिरेसिह ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले तीन माह से अवैध रूप से रेत ठेकेदार प्रतिभा काटरे ने फर्जी दस्तावेज दिखाकर ग्रामवासियों को गुमराह कर रेत निकासी किया जा रहा था,जबकि खनिज विभाग के पास पेपरबाजी करने के बाद गांव वालों को पत्ता चला तो ग्रामीणों द्वारा विरोध किया गया,जिस दरमियान विवाद के स्थिति निर्मित हुई और खदान को बंद कर दिया गया था,जिसे 11 जनवरी से पुनः ही चैनमाउंटेन व जेसीबी लगाकर रेत निकासी किया जा रहा है। जिसे लेकर ग्रामीणों द्वारा भानुप्रतापपुर थाना में भी सूचना दी गई है, फिर भी ठेकेदार के द्वारा काम शुरू किया गया है,जिसका ग्रामीणों पुरजोर विरोध किया जा रहा है।

विदित हो कि कंपनी के द्वारा पूर्व में भी अवैध रेत डंप का मामला आया था जिस पर ग्रामीणों द्वारा संचालकों के साथ मारपीट कि मामला सामने आया था, जिसके पश्चात खनिज अधिकारी के द्वारा मामले को संज्ञान में लेते हुए कार्यवाही की गई थी।