breaking news New

श्रीराम मंदिर : दुर्ग जिले से मिली 1 करोड़ 92 लाख की राशि, पूरे छत्तीसगढ़ में 32 करोड़ से अधिक आ चुकी है समर्पण निधि - संतोष गोलछा

श्रीराम मंदिर : दुर्ग जिले से मिली 1 करोड़ 92 लाख की राशि, पूरे छत्तीसगढ़ में 32 करोड़ से अधिक आ चुकी है समर्पण निधि - संतोष गोलछा

भिलाई, 18 फरवरी। श्रीराम मंदिर तीर्थ क्षेत्र निधि समर्पण अभियान के छत्तीसगढ़ प्रांत के सहअभियान प्रमुख संतोष गोलछा ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि, पूरे देश भर में अयोध्या में निर्माणाधीन श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र हेतु निधि समर्पण अभियान जोर शोर से प्रारंभ है। इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ प्रांत में 15 जनवरी से 31 जनवरी तक निधि समर्पण अभियान बहुत ही उल्लास के साथ सम्पन्न हुआ। बड़ी संख्या में राम भक्त विभिन्न माध्यमों से इस समर्पण अभियान में जुड़े। इस दौरान 1 जनवरी से 15 जनवरी तक संपर्क पखवाड़ा मनाया गया और प्रभात महाआरती फेरी तथा रथ यात्रा निकाली गई। सैकडों की संख्या में प्रत्येक चौक चौराहे पर श्रीराम जी की भव्य महाआरती का आयोजन किया गया व विभिन्न जगहों में भजन कीर्तन, सत्संग, रामायण पाठ तथा संकीर्तन का आयोजन भी किया गया। शोभा यात्रा के रूप में वाहन रैलियाँ की गई। तत्पश्चात 15 जनवरी मकर संक्रांति पर्व से 30 जनवरी तक बड़ी राशि का निधि समर्पण रसीद के माध्यम से प्राप्त किया  गया और 31 जनवरी को एक दिवसीय महाअभियान के दौरान 10 रू. 100 रू. और 1000 रू. के कूपन तथा रसीद पुस्तिका के माध्यम निधि संग्रहित की गई। पूरे छत्तीसगढ़ प्रांत एवं दुर्ग जिले में उल्लास और उत्साह का वातावरण निर्मित हुआ। यह अविस्मरणीय, अभूतपूर्व तथा अद्वितीय रहा और इसका परिणाम यह हुआ कि, कम समय में ही पूरा कूपन तथा रसीद पुस्तिका समाप्त हो गई। बहुत बड़ी संख्या में लगातार जन समुदाय समर्पण समिति के सदस्यों को फोन करके पूछते रहे कि, हमें भी समर्पण करना है, हम कहाँ और कैसे कर सकते हैं।

होटल हिमालय पार्क में आयोजित पत्रकार वार्ता में संतोष गोलछा ने कहा कि राम भक्तों के लगातार दबाव को देखते हुए छत्तीसगढ़ प्रांत ने पुन: यह निर्णय लिया कि वे क्षेत्र जहाँ तक जन जागरण अभियान नहीं पहुँच पाया है वहाँ अभियान पुन: पहुँचे इस  हेतु अभियान का द्वितीय चरण दिनांक 15 फरवरी से 27 फरवरी तक पुन: प्रारंभ किया गया। वर्तमान में पर्याप्त मात्रा में कूपन एवं रसीद बुक प्रांत द्वारा सभी जिलों को उपलब्ध कराया गया है। दुर्ग जिला में भी द्वितीय चरण का यह अभियान 15 फरवरी से 27 फरवरी तक चलेगा। वर्तमान में अभी तक जो राशि निधि समर्पण के माध्यम से प्राप्त हो रही है वह पूरी निष्पक्षता के साथ पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ  बड़ौदा, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में डिपॉजिटरों द्वारा लगातार जमा करवाया जा रहा है। दुर्ग जिले में 15 फरवरी तक राम भक्तों द्वारा समर्पित निधि की राशि 19221234 रूपयें बैंकों में डिपॉजिटरों के माध्यम से जमा कराया जा चुका है।

 माता कौशिल्या की जन्म स्थली एवं प्रभु श्रीराम ने ननिहाल में राम भक्तों का सहयोग और समर्पण अनुकरणीय है। साथ ही निधि समर्पण अभियान समिति के अधिकृत सदस्यों द्वारा अभियान से वंचित हिन्दु जनमानस के लिए, राम भक्तों के माध्यम से, श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के अधिकृत कूपन रूपये 10, 100 एवं 1000 तथा रसीद के द्वारा निधि समर्पण कर सकते हैं। 27 फरवरी को पूरे देश व्यापी अभियान का अंतिम चरण समाप्त होगा।

 छत्तीसगढ़ प्रांत में आज दिनांक तक लगभग 31 करोड़ रूपये का समर्पण प्राप्त हो चुका है। छत्तीसगढ़ प्रांत के 50 लाख हिन्दु परिवार में संपर्क हो चुका है। अगले चरण में हर गाँव, हर कस्बे में हर हिन्दु परिवार से संपर्क का लक्ष्य है। कोई घर ना छूटे, प्रत्येक हिन्दु जन का समर्पण हो यही लक्ष्य है। इस कार्य हेतु पूरे छत्तीसगढ़ प्रांत में 30 हजार टोलियाँ बनायी गई हैं। 2 करोड़ 75 लाख हिन्दु से संपर्क का प्रयास किया जायेगा।

 दुर्ग जिला में इस दौरान दुर्ग नगर, भिलाई नगर, भिलाई 3 चरोदा, कुम्हारी तथा धमधा, पाटन एवं दुर्ग विकासखण्ड के लगभग 6 लाख हिन्दु जन मानस से राम दूतों द्वारा 1 लाख 44 हजार घरों में संपर्क किया जा चुका है। इस कार्य हेतु 3400 सौ राम दूतों द्वारा 550 टोली बनाकर संपर्क किया जा रहा है। निधि समर्पण का यह अभियान दुर्ग जिला-छत्तीसगढ़ प्रांत में 15 फरवरी से 27 फरवरी तक चलेगा। इस अवसर पर जिला अभियान प्रमुख अनिल गुर्जर, भिलाई महानगर के संयोजक श्रीनिवास खेडिया भी उपस्थित थे।