breaking news New

लंबे अरसे के बाद धरसीवां को मिला पूर्ण तहसील के दर्जा

लंबे अरसे के बाद धरसीवां को मिला पूर्ण तहसील के दर्जा


  विधायक के प्रयासों से मिली ग्रामीणों को राहत

विधायक शर्मा ने मुख्यमंत्री के प्रति किया आभार प्रकट

   रायपुरl छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से लगभग बीस किलो मीटर की दूरी पर स्थित उप-तहसील धरसीवां को प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्ण तहसील के दर्जा दे दिया है ज्ञात हो कि क्षेत्रीय विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा के द्वारा पथरी में छत्तीसगढ़ के प्रथम स्वप्न दृष्ट डॉ खूबचंद बघेल जी की जयंती पर माननीय मुख्यमंत्री जी से मांग की थी व लगातार प्रयासों से मिली इस सौगात से अब ग्रामीणो को राजधानी रायपुर की भागादौड़ी से निजात मिलेगी।

    जानकारी के मुताबिक धरसीवां प्रदेश का एकमात्र क्षेत्र है जहां से सर्वाधिक स्वतंत्रता संग्राम सेनानी हुए हैं जिन्होंने स्वाधीनता की जंग में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और भारतवर्ष को अंग्रेजो की गुलामी से आजाद कराया प्रथक छत्तीसगढ़ राज्य के प्रथम स्वप्न दृष्टा स्वाधीनता सैनानी डॉ खूबचन्द बघेल की जन्म एवं कर्मभूमि पथरी गांव भी धरसीवां में ही है इतना ही नही देश की सबसे बड़ी स्पंज आयरन उधोग मंडी में शुमार रखने वाला ओधोगिक क्षेत्र सिलतरा भी धरसीवां में ही है बाबजूद इसके इस क्षेत्र के लोगो को हर छोटे बड़े सरकारी कामों के लिए सीधे रायपुर की भागदौड़ करना पड़ती है यह पूर्ण तहसील का दर्जा न होने से भी ग्रामीण लोगो को बहुत परेशानिया झेलना पड़ती थी इसी को देखते हुए धरसीवां विधाययक श्रीमती अनिता योगेंद्र शर्मा लगातार क्षेत्र के साथ शासन स्तर पर सक्रिय रहकर अपने क्षेत्र की प्रमुख समस्याओं के निदान में लगी रहती है और अंततः पूर्ण तहसील के दर्जा धरसीवां को दिलाने में उन्हें कामयाबी मिली।

   धरसीवां को पूर्ण तहसील के दर्जा मिलने से क्षेत्र के लोगो मे खुशी का माहौल है और उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व क्षेत्रीय विधायक का इसके लिए आभार व्यक्त किया है।