breaking news New

Breaking निलंबित कार्यपालन अभियंता पर लगा 1 करोड़ 3 लाख का हर्जाना, आदेश जारी, खांडा जलाशय मामले में सरकार की बड़ी कार्रवाई

Breaking निलंबित कार्यपालन अभियंता पर लगा 1 करोड़ 3 लाख का हर्जाना, आदेश जारी, खांडा जलाशय मामले में सरकार की बड़ी कार्रवाई

कोरिया. खांडा जलाशय में हुए भ्रष्टाचार के मामले में सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए निलंबित कार्यपालन अभियंता विनोद शंकर साहू पर करोड़ों का हर्जाना लगाया है. आदेश के अनुसार अभियंता को 1 करोड़ 3 लाख का हर्जाना भरना होगा. इसे लेकर राज्य शासन ने आदेश जारी किया है.

जांच के बाद हर्जाना भरने का आदेश जारी हुआ है. जानते चलें कि गुजरे 22 सितंबर को बैकुंठपुर स्थित खांडा जलाशय टूटने के कारण सैकड़ों किसानों की फसल बर्बाद हो गई थी. जलाशय की देखरेख व मरम्मत का कार्य कार्यपालन अभियंता विनोद शंकर साहू जल संसाधन विभाग बैकुंठपुर जिला कोरिया की थी लेकिन उनके द्वारा अपने काम में लापरवाही बरतने के चलते विकासखंड बैकुंठपुर अंतर्गत खड़ा जलाशय में धीरे.धीरे पानी के रिसाव के कारण बांध बह जाने से फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई. इसके बाद सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लिया था.

दूसरी ओर क्षतिग्रस्त खांडा जलाशय मामले में जांच के लिए विधायक गुलाब कमरो ने प्रदेश के मुख्यमंत्री, जल संसाधन मंत्री व मुख्यसचिव को पत्र लिखा था. कमरो ने खाड़ा जलाशय क्षतिग्रस्त की जांच के साथ हसिया नदी काली घाट स्टाप डेम एवं जल संसाधन विभाग कोरिया के कार्यपालन अभियंता विनोद शंकर साहू के विरुद्ध विभागीय जांच की मांग की थी. वहीं जांच पूरी होने के बाद निलंबित कार्यपालन अभियंता के खिलाफ यह कार्रवाई हुई है.