breaking news New

ग्राम पंचायत सचिव टांडिया के खिलाफ फर्जीवाड़ा का आरोप

ग्राम पंचायत सचिव टांडिया के खिलाफ फर्जीवाड़ा का आरोप


पंचायत प्रतिनिधि ने सीईओ से किया शिकायत हटाने की मांग

भानुप्रतापपुर। ग्राम पंचायत डोंगरकट्टा के सचिव सत्यदेव टांडिया के खिलाफ बिना कार्य के राशि आहरण किये जाने को लेकर आज सोमवार को सरपंच सहित पंचायत प्रतिनिधि एकत्रित होकर सीईओ जनपद पंचायत से मुलाकात करते हुए सचिव को हटाने ज्ञापन सौपा है।

सरपंच यशोदा बाई, उप सरपंच, पंच अनिता,वीरेन्द्र नेताम, सविता बाई, अघन सिह,खुशी राम दर्रो, रमिता, बासन बाई, शामना परचामी सहित अन्य पंचों ने जानकारी देते हुए बताया कि  सचिव सत्यदेव टांडिया के द्वारा पंचायत प्रतिनिधियों को दर किनार करते हुए !

अपने मनमर्जी से कार्य करता है। पंच को छोड़ वे सरपंच को भी जानकारी देना उचित नही समझता है। कई बार सचिव से योजना एवं राशि की जानकारी अनेको बार मांगी गई लेकिन नही द्विया गया, सचिव कहता है कि आप लोगो को जानकारी देना मैं उचित नही सनझता हूँ।

सरपंच का शील भी अपने पास रखता है। इनकी कार्यशैली से सरपंच व पंचायत प्रतिनिधी नाराज है। सीईओ से मिलकर उन्हें पंचायत से हटाने की मांग हैं।

 वही पंच सविता बाई एवं हीरा लाल कोरेटी ने बताया कि , सरपंच व सचिब के द्वारा आश्रित गावो में कहीं पर काम नही हुआ है बावजूद मूलभूत से शौचालय व रोड  मरम्मत के नाम से 21265 रुपए एवं 14 वे वित्त योजना से 85000, स्कूल शौचालय 55000,विधुत सामग्री50000,, निजी शौचालय 80000, शासकीय भवन 38719 कुल तीन लाख से अधिक राशि निकाले काने की बात रही है। मामले की जांच एवं संबंधितो पर कार्यवाही किये जाने जनपद पंचायत सीईओ से मुलाकात किये।

इस सम्बंध में सचिव सत्यदेव टांडिया ने बताया कि आरोप निराधार है,सभी जानकारी ग्रामसभा के माध्यम से द्विया जाता है।