breaking news New

VIDEO : स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव चूके तो बृजमोहन अग्रवाल ने की मदद, डॉक्टरों को 25 स्पेशल कोरोना वायरस प्रोटक्शन किट गुजरात से मंगाकर दी

VIDEO : स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव चूके तो बृजमोहन अग्रवाल ने की मदद,  डॉक्टरों को 25 स्पेशल कोरोना वायरस प्रोटक्शन किट गुजरात से मंगाकर दी

रायपुर. कोरोना पीड़ितों का इलाज कर रहे मेकाहारा के डॉक्टरों की रायपुर दक्षिण के विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने बड़ी मदद करते हुए उन्हें पर्सनल प्रोटेक्शन इक्यूपमेंट नि:शुल्क प्रदान किये. श्री अग्रवाल ने डॉक्टरों की डिमाण्ड पर गुजरात से किट मंगवाकर उन्हें अपने निवास पर आबंटित की.

डॉ.भीमराम अंबेडकर मेडिकल कॉलेज अस्पताल रायपुर के आपातकालीन चिकित्सा प्रभारी डॉ. रोहित दुबे ने बताया कि श्री अग्रवाल ने 25 चिकित्सकों के लिए यह आवश्यक कोरोना वायरस प्रोटक्शन किट उपलब्ध कराया है. इस कीट में विरोगार्ड सूट, 3m90041N मास्क, कैमि स्पेल्स गॉगल, डेक्कन वाइप टिशू, फेस शैल्ड तथा ग्लब्स हैं. यह किट जब डॉक्टरों को मिली तो सभी ने श्री अग्रवाल के इस मदद की खूब सराहना की है.

सूत्रों के मुताबिक विधायक बृजमोहन अग्रवाल को जब पता चला कि मेकाहारा में लोगों का इलाज कर रहे डॉक्टरों के पास आवश्यक सुरक्षा संसाधनों की कमी है तो उन्होंने कुछ चिकित्सकों से राय लेकर गुजरात से यह विशेष किट मंगाया. उन्होंने कहा कि आज यहां के डॉक्टर अपनी जान जोखिम में डालकर कठिन परिस्थितियों में काम कर रहे हैं. ऐसे में उनका ध्यान रखना हमारा फर्ज है. 

जानते चलें कि कोरोना वायरस की समस्या सामने आने के बाद डॉक्टरों ने विधायक बृजमोहन अग्रवाल से मौखिक तौर पर कहा था कि मेकाहारा में स्पेशल किट नही है. इसके बाद श्री अग्रवाल ने स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव को टिवट करके इसका इंतजाम करने की मांग की थी परंतु जब विभागीय मंत्री और विभागीय अफसरों की तरफ से कोई हलचल होते नही दिखी तो स्थिति की गंभीरता को समझते हुए विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने 25 विशेष किट का आर्डर कर दिया और तीन—चार दिन में ही स्पेशल किट रायपुर पहुंच गई जिसका आबंटन आज किया गया.

बताया जाता है कि किट सामग्री डेढ़ लाख रूपये से ज्यादा की है. दरअसल स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव इन दिनों मुंबई में फंसे हुए हैं और स्वास्थ्य विभाग की खरीदी में काफी लेटलतीफी होती है इसलिए श्री अग्रवाल ने खुद ही आर्डर देकर गुजरात से किट मंगवा ली. इस मामले में जब श्री अग्रवाल से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि डॉक्टरों ने जब मुझे किट ना होने की जानकारी दी तो मैंने अपनी ओर से किट देने का फैसला किया. पहले प्रधानमंत्री सहायता कोष में राशि देने वाला था, फिर सोचा कि डॉक्टरों को इसकी ज्यादा आवश्यकता है इसलिए स्पेशल किट खरीदकर दिया गया.

देखें वीडियो :