breaking news New

शासकीयकरण की प्रतीक्षा में पंचायत सचिवों नव एक सूत्रीय मांग को लेकर प्रेस वार्ता कर पत्रकारो के समक्ष रखा विचार

शासकीयकरण की प्रतीक्षा में पंचायत सचिवों  नव एक सूत्रीय मांग को लेकर प्रेस वार्ता कर पत्रकारो के समक्ष रखा विचार

सुकमा ! पंचायत सचिवों का एक सूत्रीय मांग परीक्षा अविधि पश्चात् शासकीयकरण होने सम्बंधित मांगे जो लंबित है  प्रेसवार्ता कर उनकी जानकारी सुकमा प्रेस कलब में दी  ,पंचायत सचिव पिछले 26 वर्षो से अपनी सेवाएं दे रहे है। ग्रामीण अंचल में शासन के समस्त योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का कार्य जिम्मेदारी के साथ ईमानदारी पूर्वक अपने कर्तव्यों का निर्वहन व गांधी वादी तरीके से आंदोलन कर समय समय पर सरकार से अपनी मांगो को मनावाने की कोशिश करते रहे लेकिन संतोष जनक उत्तर का इन्तजार सरकार से आज भी है।

मंत्री  टी.एस.सिंहदेव के आश्वासन मिलने पर हम  हडताल स्थगित कर।मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री  के समक्ष प्रदेश पंचायत सचिव संगठन के प्रतिनिधि मण्डल के साथ चर्चा में भूपेश बघेल  मुख्यमंत्री द्वारा  शासकीयकरण का सौगात देने का वादा किया गया था।लेकिन अब तक सम्भव न हो सका। 


- छ.ग. में त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था लागू 

 है जिसके अन्तर्गत कार्यरत कर्मचारी शासकीय सेवक है, और पंचायती राज के आधार स्तम्भ माने जाने वाले ग्राम

पंचायतों में कार्यरत पंचायत सचिव आज 26 वर्ष की सेवा बीत जाने के बाद भी शासन द्वारा

शासकीयकरण नही किया गया है। सचिव ने  ईमानदारी पूर्वक निर्वहन करते हुए.राज्य शासन एवं केन्द शासन के समस्त योजनाओं को

लोकतंत्र के अंतिम व्यक्ति तक पहूचाने का अति महत्वपूर्ण कार्य को अंजाम देते रहे है

- कोविड टेस्ट, टीकाकरण, इत्यादि महत्वपूर्ण कार्य को सफलता पूर्वक किया गया , शासन की योजना जैसे नरूवा, गरूवा,

घुरूवा अउ बारी के तहत् ग्राम गौठान निर्माण, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदुर न्याय

योजना, एवं मनरेगा के कार्यों का जिम्मेदारी पूर्वक निर्वहन किया तथा 

 शासन / प्रशासन के दिशा निर्देश एवं पंचायत सचिवो के कडी मेहतन तथा कार्य के

प्रति लगन एवं सच्ची निष्ठा के साथ पालन सचिवो द्वारा किया जाता राहा अतः सरकार से हमारी आग्रह है की हमारी एकसुत्रिय मांगो को ध्यान दिया जाय,जिनकी मौजूदगी मे प्रेसवार्ता सम्पन्न हुई ।

सीताराम कश्यप ,अजय मण्डावी, पारूल सिंह,अमित सोडी,लक्ष्मण कश्यप,गोपाल अजमेरा, पदमाराव,कृष्ण प्रकाश,लोकनाथ कश्यप,भिखारी मांझी,उदय कुमार,प्रवीण सोड़ी व अन्य।