सांसद सुनील सोनी की पहल पर एम्स को मिलेंगी दस हजार पीपीई किट, बढ़ेगा कोरोना वायरस की जांच का दायरा

सांसद सुनील सोनी की पहल पर एम्स को मिलेंगी दस हजार पीपीई किट, बढ़ेगा कोरोना वायरस की जांच का दायरा

रायपुर। रायपुर के लोकसभा सांसद सुनील सोनी ने शनिवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान का दौरा कर यहां स्थित वायरस रिसर्च एंड डायग्नोस्टिक लैब (वीआरडीएल) में कोरोना वायरस की जांच प्रक्रिया की जानकारी ली। उन्होंने कोरोना वायरस रोगियों को चिकित्सा सेवा प्रदान करने वाले सभी चिकित्सकों, नर्सिंग स्टाफ और कर्मचारियों को प्रोत्साहित करते हुए उनके कार्य को निष्ठा की पराकाष्ठा बताया। इस अवसर पर पीपीई किट की कमी को पूरा करने के लिए उन्होंने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टी.एस.सिंहदेव से बात की। मंत्री सिंहदेव ने तुरंत दस हजार किट उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया जिससे चिकित्सा में जुटी टीम को संक्रमण से बचाव करने में दिक्कत न हो। सुनील सोनी ने वीआरडीएल में कोरोना वायरस की जांच कर रहे चिकित्सकों से इसकी तकनीकी प्रक्रिया को समझा। उन्होंने चिकित्सकों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि जिस प्रकार एम्स की लैब दिन-रात टेस्टिंग कर रही है और पॉजिटिव रोगियों को तुरंत उपचार प्रदान किया जा रहा है उससे एम्स परिवार की प्रतिबद्धता और निष्ठा प्रकट होती है। उन्होंने बताया कि अभी तक 1652 टेस्ट कर लिए गए हैं। अभी प्रतिदिन तीन सौ तक टेस्ट किए जा रहे हैं जिसकी वजह से पीपीई किट की मांग बढ़ गई है।

बढ़ती टेस्ट संख्या पर उन्होंने संतोष प्रकट करते हुए कहा कि इससे प्रदेश को कोरोना वायरस की चुनौती से बचाकर रखने में काफी मदद मिलेगी। उन्होंने पीपीई किट के लिए मंत्री सिंहदेव से मोबाइल पर बात की और उनसे एम्स को 20 हजार पीपीई किट देने का अनुरोध किया। टीएस सिंहदेव ने उनके अनुरोध पर सकरात्मक सहमति देते हुए जल्द ही दस हजार किट उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। सुनील सोनी ने निदेशक प्रो डॉ नितिन एम नागरकर और उप-निदेशक प्रशासन नीरेश शर्मा से विस्तार से कोरोना वायरस के उपचार के लिए अन्य जरूरतों के बारे में जानकारी ली और आश्वासन दिया कि इस संदर्भ में वह सीधे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों से बात करके हर संभव मदद दिलाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने एम्स परिवार को उसके प्रयासों के लिए बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश को कोरोना वायरस की चुनौती से बचाने में एम्स की महत्वपूर्ण भूमिका है जिसे यहां के चिकित्सक बखूबी निभा रहे हैं।