breaking news New

BREAKING : पन्द्रह अगस्त को हाईकोर्ट करेगा पांच मोबाइल कोर्ट का शुभारंभ

BREAKING : पन्द्रह अगस्त को हाईकोर्ट करेगा पांच मोबाइल कोर्ट का शुभारंभ

नैनीताल। उत्तराखंड उच्च न्यायालय स्वतंत्रता दिवस के दिन वादकारियों एवं प्रदेश की जनता को नयी सौगात देने जा रहा है। न्यायालय की ओर से इस दिन पांच मोबाइल कोर्ट का शुभारंभ किया जायेगा। पहले चरण में पांच जनपदों में इसका शुभारंभ किया जायेगा। मुख्य न्यायाधीश आरएस चौहान इसकी शुरूआत करेंगे।

यह जानकारी उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार जनरल धनंजय चतुर्वेदी ने शुक्रवार को दी। श्री चतुर्वेदी ने आज प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि पहले चरण में प्रदेश के सुदूरवर्ती चमोली, उत्तरकाशी और टिहरी के अलावा पिथौरागढ़ एवं चंपावत जनपदों में इसकी शुरूआत की जायेगी।

उन्होंने आगे बताया कि उत्तराखंड उच्च न्यायालय उत्तर भारत में यह अभिनव प्रयोग करने वाला पहला न्यायालय है। जो वादकारियों को यह सुविधा प्रदान कर रहा है। मुख्य न्यायाधीश रविवार (15 अगस्त) को हरी झंडी दिखाकर मोबाइल कोर्ट का शुभारंभ करेंगे। इससे दिव्यांग, अक्षम तथा न्यायालय आने में असमर्थ लोगों को लाभ मिल सकेगा। वे मोबाइल कोर्ट के माध्यम से अपने बयान व गवाही दे सकेंगे।

ऐसा माना जा रहा है कि इससे वादों के निस्तारण में तेजी आयेगी और लोगों को त्वरित न्याय मिल सकेगा। जानकारों का मानना है कि अभी तक गवाही आदि में अदालत का अधिक समय नष्ट हो जाता है। इससे समय की बचत होगी। श्री चतुर्वेदी ने यह भी बताया कि मुख्य न्यायाधीश की ओर से आधुनिक प्रणाली से युक्त वैन को रवाना किया जायेगा।

इसका लाभ लेने के लिये वादकारियों को ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा। न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर भी इस सुविधा का लाभ लिया जा सकता है। इससे दहेज, छेड़छाड़ व दुष्कर्म जैसे मामलों के निपटारे में सहायता मिल सकेगी।