breaking news New

हिमाचल में रेड अलर्ट , भूस्खलन से चार एनएच समेत दर्जनों सड़के बंद, कई वाहन फंसे

हिमाचल में रेड अलर्ट , भूस्खलन से चार एनएच समेत दर्जनों सड़के बंद, कई वाहन फंसे


शिमलान।  हिमाचल प्रदेश में पिछले दो दिनों से हो रही भारी बारिश से कई स्थानों पर जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है।
लाहौल स्पीति के तहसील कार्यालय सांगला के समीप टाॅगटांच नाले में भूस्खलन होने से भारी नुकसान हुआ है। लेकिन जानमाल की हानि नहीं हुई है। प्रदेश में चार राष्ट्रीय राजमार्गों सहित 28 सड़कें भूस्खलन के कारण बंद हो गई है। इस अवधि में तीन लोगों की मौत भी हुई है। बिलासपुर, कांगडा और मंडी में एक एक लोगों की मौत हुई है। जिससे प्रदेश में मरने वालों की संख्या बढ़कर 190 हो गई है। एक पक्का मकान और तीन कच्चे मकान गिर गए है वहीं कई वाहन और पर्यटक फंस गए है। मौसम विभाग ने प्रदेश भर में आज से अगले दो दिनों तक भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है।

मंडी से 12 किलोमीटर दूर सात मील के पास भूस्खलन से चंडीगढ़ मनाली नेशनल हाईवे बाधित हो गया है। सिरमौर जिले में राष्ट्रीय राज्य मार्ग 707 पर अधिकांश क्षेत्रों में भूस्खलन हुआ है तो वहीं कच्ची ढांग के समीप पेड़ गिरने से सड़क बंद हो गई है। जिसके चलते दोनों ओर वाहनों लंबी कतारें लगा गई हैं। वहीं मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि विभाग का अभी तक यहां पर कोई पुख्ता प्रबंध नहीं है। गिरिपार क्षेत्र में बारिश ने कहर बरपा दिया है कहीं किसानों की नगदी फसलों को व्यापक नुकसान पहुंचा है तो कही घरों को भारी नुकसान पहुंचा है। बीते रात को नोहराधार में बाजार के साथ लगते एक मकान को पीछे से भूस्खलन से काफी क्षति पहुंची है।

लाहौल स्पीति में बारालाचा और सरयू के बीच दो दर्जन वाहन फंस गए थे लेकिन प्रशासन ने सभी को निकाल लिया है। एसपी मानव वर्मा ने कहा कि पर्यटकों से मौसम के मिजाज को देखते हुए सफर करने को कहा गया है।



मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक सुरेंद्र पाॅल ने कहा कि 27 और 28 जुलाई को पूरे प्रदेश में भारी से भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। इस दौरान तूफान चलने और बिजली गिरने को लेकर भी अलर्ट जारी किया गया है। प्रशासन ने लोगों और पर्यटकों को नदी-नालों के किनारे और भूस्खलन वाले क्षेत्रों की ओर न जाने की हिदायत जारी की है। इसके अलावा प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए मशीनरी भी तैनात की है।

शिमला 20.8, सुंदरनगर 26.2, भुंतर 30.6, कल्पा 24.1, धर्मशाला 27.2, ऊना 31.0, नाहन 25.1, सोलन 25.1, कांगड़ा 28.4, बिलासपुर 29.0, हमीरपुर 28.8, चंबा 29.9, डलहौजी 19.4 और केलांग 27.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया है।