रायपुर के दो बच्चों से हारेगा कोरोना, क्या है पूरा मामला पढ़िये खबर

रायपुर के दो बच्चों से हारेगा कोरोना, क्या है पूरा मामला पढ़िये खबर

रायपुर, 09 अप्रैल | राजधानी के कुशालपुर इलाके में रहने वाले ऐश्वर्या और वीरा नाम के दो बच्चे जब आज सुबह अपने हाथ मे गुल्लक लिए थाने में पहुचे और कहा कि हमे कोरोना पीड़ितों के लिए पैसे दान करने हैं। जिसे सुनकर थानेदार सहित सारा स्टाफ आश्चर्यजनक रूप से देखते रह गए। काफी देर तक किसी को समझ ही नहो आया कि बच्चे क्या कहना चाह रहे हैं। लेकिन जब कुछ देर बाद बच्चों के पिता प्रमोद यादव वहां पहुचे और बताया कि बच्चे कोरोना पीड़ितों के लिए अपनी जमा पूंजी दान करना चाह रहे हैं।

बच्चों के पिता ने बताया कि पिछले कई वर्षों से ये बच्चे इस गुल्लक में एक दो रुपया जमा कर रहे थे कि खुद के लिए खिलोने और कपड़े खरीदेंगे, लेकिन हर रोज टीवी पर कोरोना पीड़ितों के लिए दान करने की खबर देख कर इन्होंने कहा हमे भी दान करना है, और यहां आगये।बतादें की बच्चे रायपुर के कुशालपुर इलाके के रहने वाले हैं। पिता का नाम प्रमोद यादव है। दोनों बच्चों का नाम ऐश्वर्य एवं कुमारी वीरा यादव है।दोनों ने गुल्लक में जमा किए हुए 1770 रुपए को कोराना वायरस से प्रभावित व्यक्तियों के सहायता के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराने के लिए थाना प्रभारी पुरानी बस्ती के हाथों में अनुदान राशि जमा किया है।