breaking news New

बोरी बंद शव के हत्या का खुलासा, पारिवारिक विवाद बना हत्या का कारण

बोरी बंद शव के हत्या का खुलासा, पारिवारिक विवाद बना हत्या का कारण

रायपुर, 31 अक्टूबर। बूढ़ा तालाब पास मिले बोरी बंद शव के हत्या का हुआ खुलासा हो गया है। इस मामले में मृतक की पत्नी ने दामाद और पुत्र के साथ मिल कर दिया घटना को अंजाम। तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

प्रार्थी सैय्यद मोह. शफीक ने थाना पुरानी बस्ती में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह एम.जी. रोड गुरूनानक चैक हुसैनी प्लाजा रायपुर में रहता है तथा कुर्सी का व्यवसाय करता है। 29अक्टूबर के शाम 7.30 बजे करीब प्रार्थी को फोन पर सूचना मिली की आज शाम को बूढ़ा तालाब कैलाशपुरी ढाल के पास तालाब के पानी में एक सफेद रंग की प्लास्टिक बोरी में एक व्यक्ति उम्र करीब 35 वर्ष का शव हाथ, पैर रस्सी से बांधकर तालाब के पानी में फेंके हैं जिसे तालाब के सफाई कर्मचारियों द्वारा देखकर थाने में सूचना दी गई एवं बोरी खोलकर देखने पर एक व्यक्ति जो हल्का पीला रंग का फूल शर्ट, काले रंग का जींस पैंट पहना है। मृतक के दोनों पैर, हाथ तथा शरीर को नायलाॅन रस्सी तथा साड़ी के टुकड़े से बंधा है गले में चोट तथा दाहिने आंख, सिर तथा बांये पैर के घुटने के पास चोट का निशान है। जिस पर प्रार्थी, अफरोज, युसूफ एवं सैय्यद मोह. रसीद के साथ मौके पर बूढ़ा तालाब आकर देखा तो मृतक आसिफ कादर उर्फ फिरोज का शव था। मृतक प्रार्थी के मामा का लड़का तथा अफरोज का भाई है किसी अज्ञात व्यक्ति ने मृतक आसिफ कादर उर्फ फिरोज को मारकर हत्या कर उसकी पहचान एवं साक्ष्य छिपाने के लिए रस्सी से बांधकर बोरी में भरकर बांधकर बुढ़ा तालाब में फेंक दिये थे। जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना पुरानी बस्ती में अपराध क्रमांक 302/20 धारा 302, 201, 34 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया। 

हत्या की घटना को पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव द्वारा गंभीरता से लेते हुये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटले, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध अभिषेक माहेश्वरी, नगर पुलिस अधीक्षक पुरानी बस्ती  मनोज ध्रुव एवं थाना प्रभारी पुरानी बस्ती रत्ना सिंह (परि. भा.पु.से.) को अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में सायबर सेल एवं थाना पुरानी बस्ती की एक संयुक्त टीम का गठन किया गया। टीम द्वारा घटना स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया जाकर हत्या के सब पहलुओं को ध्यान में रखते हुये अज्ञात आरोपी के संबंध में पतासाजी करते हुये जानकारी जुटानी प्रारंभ की गई। टीम द्वारा घटना के संबंध में प्रार्थी से विस्तृत पूछताछ करते हुये तालाब के सफाई कर्मचारी जिन्होंने सर्वप्रथम शव को देखा था उनसे भी घटना के संबंध में पूछताछ कर आसपास के लोगों से भी पूछताछ किया गया। टीम द्वारा घटना स्थल के आसपास लगे सी.टी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन किया गया। अज्ञात आरोपी की पतासाजी के संबंध में मुखबीर लगाने के साथ ही तकनीकी विश्लेषण किया जाकर अज्ञात आरोपी के पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहे थे। इसी दौरान टीम को जानकारी प्राप्त हुई कि मृतक बोरियाखुर्द टिकरापारा में दूसरी पत्नि रखा है तथा दिनांक घटना को अंतिम बार मृतक को वहीं देखा गया था एवं कुछ दिनों से मृतक एवं उसकी दूसरी पत्नि रूबीना परवीन उर्फ रानी का आपस में पारिवारिक विवाद चल रहा था। जिस पर संदेह के आधार पर टीम के सदस्यों द्वारा मृतक की दूसरी पत्नि रूबीना परवीन उर्फ रानी से घटना के संबंध में पूछताछ करने पर उसके द्वारा किसी भी प्रकार से अपराध में अपनी संलिप्तता नहीं होना बताकर बार - बार अपना बयान बदल रहीं थी एवं टीम को लगातार गुमराह करने का प्रयास कर रहीं थी जिस पर टीम का शक रूबीना परवीन उर्फ रानी के उपर और भी गहरा हो गया एवं प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर टीम के सदस्यों द्वारा कड़ाई से पूछताछ करने पर रूबीना परवीन उर्फ रानी अपने झूठ के सामने टिक न सकी और अंततः अपने दामाद ईरफान खान के साथ मिलकर हत्या की उक्त घटना को कारित करना स्वीकार की। पूछताछ में आरोपिया ने बताया कि दिनांक घटना को उसका मृतक के साथ पारिवारिक बातों को लेकर विवाद हुआ था जिस पर मृतक द्वारा उसके साथ मारपीट किया जा रहा था इसी दौरान आरोपिया एवं उसका दामाद ईरफान खान मृतक के साथ मारपीट करते हुये लोहे की छेनी से मारकर उसकी हत्या दिये घटना के दौरान आरोपिया का अपचारी पुत्र भी वहां उपस्थित था। हत्या के पश्चात् आरोपिया एवं उसका दामाद शव के हाथ पैर रस्सी से बांधकर शव को बोरी में भर दिये तथा दोनों शव को मोटर सायकल में बीच में रखकर ले जाकर थाना पुरानी बस्ती क्षेत्रांतर्गत स्थित बूढ़ा तालाब में फेंक दिये। 

सभी आरोपियों/अपचारी को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से मृतक का माबाईल फोन, घटना में प्रयुक्त लोहे की छैनी, कपड़े एवं मोटर सायकल क्रमांक सी जी/04/एल आर/9663 को जप्त किया गया है। आरोपियों/अपचारी के विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। 

गिरफ्तार आरोपियों में रूबीना परवीन उर्फ रानी पति आसिफ कादर उर्फ फिरोज उम्र 32 साल निवासी आर डी ए कालोनी बोरियाखुर्द टिकरापारा रायपुर, ईरफान खान पिता शित्तेहसन खान उम्र 24 साल निवासी आर डी ए कालोनी बोरियाखुर्द टिकरापारा रायपुर व एक अपचारी बालक है।